Breaking News

प्राकृतिक कवी अंजनी कुमार देश को जगाने का कार्य कर रहे हैं Dainik Mail 24

 

प्रयागराज से अमित तिवारी

 मोबाइल नंबर - 8429752143



राम प्रेम शुभ कर्म है,मन का है विश्वास।

राम प्रेम संकल्प बल,सच्चे मन की प्यास। 

राम प्रेम के महल में,सुख सुविधा भरपूर।

राम प्रेम से रहें तो,दुख होता है दूर

राम प्रेम गाड़ी नई,कभी न हो प्राचीन।

राम प्रेम की सीट पर,रहें सदा आसीन।

राम प्रेम का भोग है,सभी सुखों का भोग।

राम प्रेम आहार से,मिट जाता सब  रोग।

राम प्रेम सौंदर्य है,आकर्षण श्रृंगार। 

राम प्रेम पावन परम,प्रणय प्रेम आधार।

राम प्रेम है जिंदगी,राम प्रेम परिवार। 

राम प्रेम जग जीव का,सच्चा है घर द्वार।

राम प्रेम का रूप है,यह पावन संसार।

राम प्रेम में डूब जा,तू अंजनी कुमार।

सियावर रामचंद्र की जय।

सुबह का बारंबार प्रणाम।

🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

आपका अपना अंजनी कुमार स्वतंत्र प्रतापगढ़ उत्तर प्रदेश

No comments