Breaking News

ग्राम प्रधान ने कूटरचित दस्तावेज से हड़प ली सरकरी जमीन ,पॉच वर्ष से बैक को किराए पर देकर भर रहा अपनी जेब। Dainik Mail 24

 

रिपोर्टर-वेद प्रकाश ओझा 


शासन द्वारा तमाम तरह की योजनाएं संचालित की जा रही है।इन योजनाओ का कियान्वयन ग्राम पंचायत के माध्य्म से किया जाता है। जिसमे आम जनता लाभान्ववित हो सके लेकिन ग्राम पंचायत के प्रीतिनिधि के रूप मे कार्यरत ग्राम प्रधान के द्वारा तमाम तरह की आनियमिताए लगातार देखने को मिल रही है।जिसके चलते जनता एव समाज हित की बात तो कोसो दूर होती है ऐसा ही मामला अमेठी जिले सदर तहासील व ब्लॉक गोंरीगज के ग्राम सभा  सेभूई मे देखने को मिला है। जहाँ पर खुद ग्राम प्रधान ने ग्राम सभा की जमीन पर   अवैध कब्जा  करते हुए उस उस पर बिल्डिंग बनवा लिया  और वह  किराया ग्राम प्रधान द्वारा अपने निजी उपयोग में निरंतर  क्यों किया जा रहा है। जिसकी शिकायत मेरे द्वारा जिला अधिकारी अमेठी के समस्त प्रस्तुत की गई जब उस पर अपेक्षित कार्यवाही नहीं की गई। तब मैंने माननीय उच्च  न्यायालय लखनऊ में एक रिट  दाखिल की, जिसमें यह आदेश हुआ कि जिलाधिकारी महोदय 3 महीने के अंदर इसका निस्तारण करें तीन महीना पूरा हो जाने के बाद भी निस्तारण नहीं किया गया,जिसमे ग्राम प्रधान  दोषी पाए गए लेकिन अभी तक उनके खिलाफ कोई वैधानिक कार्यवाही नहीं की गई। हाईकोर्ट ने डायरेक्शन अमेठी जिला अधिकारी को किया हुआ है। वहीं पर जिला पंचायत राज अधिकारी  श्रेया मिश्रा से जब मैंने बात की तो उन्होंने बताया कि जो भी रिपोर्ट थी मैंने जिलाधिकारी महोदय को प्रेषित कर दी है। परंतु अभी तक जिलाधिकारी अमेठी के द्वारा को त्वरित  कार्यवाही नहीं की गई इसीलिए मेरा अनुरोध है। कि समाज हित को देखते हुए जिलाधिकारी महोदय जिस पर तत्काल  यथा सुसंगत कार्रवाई करें

No comments