Breaking News

*आईपीएल में चाइनीज कंपनी का स्पान्सर देश के अमर शहीदों का होगा अपमान - प्रमोद तिवारी* /dainikmail24.com



*वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व एमपी ने अयोध्या में जनादेश और न्यायिक आदेश की आस्था के अनुरूप राममन्दिर निर्माण का किया समर्थन, कोरोना के भयावह हालात पर पीएम की चुप्पी पर भी साधा निशाना*

टीम दैनिक मेल (प्रतापगढ़)



*लालगंज प्रतापगढ़।* आईपीएल क्रिकेट मैच के संयुक्त अरब अमीरात में चाइनीज कंपनी वीवो के स्पानसर को लेकर वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी ने भारतीय सहभागिता को लेकर कड़ा एतराज जताया है। प्रमोद तिवारी ने चाइनीज कंपन के क्रिकेट खेल के स्पानसर को लेकर बीसीसीआई के सेक्रेटरी और देश के गृहमंत्री अमित साह के पुत्र जय साह को मुख्य कर्ता-धर्ता होने को लेकर श्री तिवारी ने कहा कि वीवो चाइनीज कंपनी के स्पानसर से होने वाले इस खेल से हर भारतीय क्षुब्ध होगा। श्री तिवारी ने गृहमंत्री अमित शाह के पुत्र जय शाह की आड़ में इस मसले पर भाजपा पर कड़ा हमला बोलते हुए कहा कि उनके इस मूल आयोजन कर्ता होने की स्थिति में इस चीनी कंपनी को अरबों रूपए भी कमाने का खेल सफल हो जाएगा। वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने इसे भाजपा का फर्जीवाद राष्ट्रवाद ठहराते हुए बेहद शर्मनाक व दुखद भी ठहराया है। हालाकि कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने गृहमंत्री अमित शाह के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की भी कामना करते हुए इस बात से सहमति जताई है कि आईपीएल का मैच जरूर हो, खेल होना चाहिए किन्तु स्पान्सर चाइनीज कंपनी के अतिरिक्त कोई अन्य कंपनी द्वारा ही यह आयोजन कराया जाए। उन्होने भाजपा पर तीखा कटाक्ष करते हुए कहा कि देश भूल नही पा रहा है कि भारत माता की पवित्रता को रक्तरंजित करते हुए अभी भी चीन का झंडा भारत भूमि में लहरा रहा है। प्रमोद तिवारी ने अपने दावे में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव के इस तथ्य के स्वीकार किए जाने के कथन का जिक्र करते हुए अफसोस जताया कि हमारे देश के कर्नल सहित बीस-बीस अमर शहीद जवानों की चिता की राख अभी ठंडी नही हुई है कि भाजपा निहित स्वार्थ में राष्ट्रीय जनमत के विपरीत अनैतिक आचरण पर भी अमादा हो गई है। वहीं प्रमोद तिवारी ने अयोध्या  में श्री राम मन्दिर निर्माण को लेकर कहा कि देश का सुप्रीम फैसला और जनादेश के स्पष्ट होने की स्थिति में अयोध्या  में भव्य राममन्दिर का निर्माण कराया जाना चाहिए। श्री तिवारी ने मन्दिर निर्माण के मुद्दे पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बयान पर कड़ी प्रक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि कांग्रेस को योगी आदित्यनाथ या भाजपा से राष्ट्र पे्रम का प्रमाणपत्र लेने की आवश्यकता नही है। श्री तिवारी ने बीजेपी को नसीहत दी कि कांग्रेस ने सदैव देश को जरूरत पड़ने पर देशहित में सर्वोच्च बलिदान दिया, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी ने देश के लिए अपने प्राणों को न्योछावर कर दिया। किन्तु भाजपा ने तो बलिदान दिया नही बल्कि सत्ता हासिल करने के लिए निहित स्वार्थ में बलिदान लिया ही है। श्री तिवारी ने कहा कि रक्षा सौदे तक में अदालत में जिन्हे दलाली खाने का दोषी ठहराया हो वह दल अब राष्ट्रवाद का फर्जी ढिंढोरा न पीटे। अयोध्या  में राममंदिर निर्माण को लेकर कांग्रेस का अधिमत स्पष्ट करते हुए पार्टी वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने कहा कि देश के पूर्व पीएम राजीव गांधी के कार्यकाल से यही निर्णय रहा है कि राममन्दिर निर्माण का मामला दोनों पक्षों के आपसी वार्तालाप से सुलझ जाए अथवा फिर सुप्रीम कोर्ट का निर्णय सर्वमान्य है। ऐसे में जब राममन्दिर निर्माण का मसला आपसी वार्तालाप से तय नही हो सका तो अब सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद देश का कानून और संविधान तथा जनआस्थना भी यही कहती है कि वहां(अयोध्या  में) भव्य राममन्दिर का निर्माण होना चाहिए। मन्दिर निर्माण के मसले पर भी भाजपा की घेरा बंदी करते हुए कांग्रेस के पूर्व राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी ने कटाक्ष किया कि बीजेपी ने अपने चुनावी घोषणापत्र में यह साफ घोषणा की थी कि यदि प्रदेश व केन्द्र मंे भाजपा की सरकार बनेगी तो कानून बनाकर राममन्दिर का निर्माण किया जाएगा। किन्तु हमेशा भाजपा की घोषणांए हर बार झूठी साबित हुई। प्रमोद तिवारी ने कहा कि कई बार प्रदेश व केन्द्र में भाजपा की सरकार बनी लेकिन राममन्दिर के निर्माण के लिए इस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व द्वारा कोई ठोस कदम नही उठाया गया। उन्होने कहा कि भाजपा का राष्ट्र प्रेम आज तक सिर्फ दिखावा और छलावा ही साबित हुआ है और जनता के साथ बीजेपी का राष्ट्रवाद कदम कदम पर धोखा है। देश में कोरोना महामारी को लेकर भी कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने सरकार की अदूरदर्शी नीति तथा नियंत्रण को लेकर असक्षमता पर कड़ा प्रहार किया। मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल के हवाले से प्रमोद तिवारी बोले मंगलवार को देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या अठारह लाख पचपन हजार तीन सौ इक्यासी हो गई है। उन्होने कोरोना नियंत्रण हालात को चिंता जनक ठहराते हुए कहा कि यह बेहद दुखद पहलू अब सामने है कि अमेरिका और ब्राजील को पीछे छोड़कर भारत में सर्वाधिक कोरोना संक्रमित मरीज मिले है। उन्होने कोरोना महामारी की स्थिति को भयावह ठहराते हुए प्रधानमंत्री की चुप्पी पर भी हमलावर होते हुए कहा कि हालात यह है कि जब रोम जल रहा था तो नीरो बांसुरी बजा रहा था।

No comments