Breaking News

*विधायक अराधना मिश्र मोना देश के सर्वश्रेष्ठ पचास विधायकों मे शामिल* / dainikmail24.com



प्रतापगढ़ । रामपुरखास की विधायक एवं कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना को भारत एशिया के पोस्ट के सर्वे मे देश के सर्वश्रेष्ठ पचास विधायको के उम्दा होने की सूची मे शामिल होने को लेकर गुरूवार को यहां कार्यकर्ताओं तथा समर्थको व विभिन्न सामाजिक व महिला संगठनो मे खुशी का माहौल दिखा। वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी की बेटी विधायक मोना को सर्वे मे समाज के कमजोर वर्ग, युवा, किसान तथा मजदूर के हितो की अनुकरणीय साहस के साथ आवाज उठाने के लिए सर्वे मे असाधारण एवं निडर विधायक कहा गया है। हालांकि कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना ने अपनी हर सफलताओ को रामपुरखास की जनता के प्यार एवं विश्वास को ही मूल ठहराते हुए इस महत्वपूर्ण क्षण को भी रामपुरखास के नाम ही करार दिया है। सर्वे मे विधायक आराधना मिश्रा मोना को कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता के रूप मे भी विधानसभा मे कमजोर तबके खासकर महिलाओं के साथ उत्पीडन व विकास के मुददो पर प्रखर प्रतिनिधायन के लिए भी संघर्ष की मजबूत आवाज के रूप मे जमकर सराहा गया है। देश की सबसे कार्यकुशल पचास विधायको की सूची मे आराधना मिश्रा मोना को जनता के बीच सर्वसुलभता के लिए विलक्षण विधायक की उपाधि मिलने पर भी समूचे रामपुरखास मे आम आवाम से लेकर प्रबुद्धजनों मे प्रसन्नता देखी जा रही है। फेम इंडिया एशिया पोस्ट ने समाज के बेहतर भूमिका को प्रोत्साहित करने के लिए विधायक मोना के दायित्व बोध और जनसाधारण को अपनी सेवा के जरिए सीधे जुडाव का भी एक सशक्त महिला नेतृत्व का चेहरा आंका गया है। खास उपलब्धि लोग यह मान रहे है कि देश भर की विधानसभाओ के तीन हजार नौ सौ अटठावन विधायको पर हुये सर्वे मे दुनिया की चर्चित एजेन्सी ने पचास विभिन्न श्रेणियो पर आकलन मे रामपुरखास की विधायक मोना को सर्वश्रेष्ठ विधायको मे माना है। सर्वे के तहत स्टेक होल्ड आनलाइन और डाटा एनालिसिस तथा संवाद मे विधायको के कार्याे का लेखाजोखा, उनके द्वारा प्रस्तुत विकास तथा जनहित के प्रस्तावको, विधेयको व उनकी बहस मे भागीदारी का गहन अध्ययन हुआ तो लोकप्रियता और कार्यशैली तथा प्रतिबद्धता, सामाजिक सरोकार, प्रभाव, जनता से जुडाव, जनहित के कार्य, शून्यकाल, ध्यानाकर्षण प्रस्ताव प्रस्तुत विधेयक, बहस, विधानसभा मे उपस्थिति, विधायक निधि के खर्च की सदुपयोगिता के विश्लेष्णात्मक रिर्पाेट के परिणामो मे मोना अव्वल विधायक आयी। वहीं सर्वे मे चुनें गये विधायको द्वारा अपने अपने राज्यो मे लोकतंत्र की सबसे महत्वपूर्ण संस्था के प्रतिनिधि के रूप मे भी बेहतर सेवा को चयन का आधार माना गया। सर्वे परिणाम का आधार भी विधानसभा मे उपलब्ध डाटा व मीडिया रिर्पाेट, सोशल मीडिया एक्टीविटी सहित विभिन्न क्षेत्रो मे प्रबुद्ध लोगों की राय भी प्रमोद तिवारी की विधायक पुत्री को उम्दा विधायक करार देती दिखी है। गौरतलब है कि कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना को मारीशस के राष्ट्रपति सर अनिरूद्ध जगन्नाथ व प्रदेश के तत्कालीन राज्यपाल बीएल जोशी भी जनसेवा के क्षेत्र मे आदर्श भूमिका के लिए सम्मानित कर चुके है। बकौल मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल विविध योगदानो के लिए भी विधायक मोना को देश व प्रदेश के कई अन्य सामाजिक एवं राजनीतिक तथा नारी सम्मान भी हासिल होते आए है। उपलब्धि पर गुरूवार को रामपुरखास मे हर चेहरे पर प्रसन्नता देखी गई। नगर पंचायत अध्यक्ष अनीता द्विवेदी, मशहूर आर्टिस्ट रवि त्रिपाठी, लालगंज प्रमुख ददन सिंह, सांगीपुर प्रमुख अशोक सिंह, डा. पूर्णिमा मिश्रा, डा. श्यामदुलारी सिंह, हुमा महमूद, संयुक्त अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष अनिल महेश, सूबेदार वीडी सिंह बघेल, डा. आरएस त्रिपाठी, डा. शिवमूर्ति शास्त्री, डा. शक्तिधर नाथ पाण्डेय, विशालमूर्ति मिश्र आदि विधायक मोना को मिले इस सम्मान को रामपुरखास विधानसभा क्षेत्र के लिए एक और यादगार सम्मान ठहराते है। वहीं कैम्प कार्यालय पर भी कार्यकर्ताओ ने सोशल डिस्टेसिंग के बीच उपलब्धि पर खुशी जताई।

No comments