Breaking News

प्रधानमंत्री मोदी ने किया शिला का अनावरण और किया सम्बोधित Daink Mail 24

*प्रधानमंत्री मोदी ने किया शिला का अनावरण और किया सम्बोधित*

टीम दैनिक मेल 24 (लखनऊ)



राममंदिर के शिलान्यास के सुवसर पर आयोजित कार्यक्रम को यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ व संघ प्रमुख मोहनभागवत व गोपालदास जी ने सम्बोधित किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को पीएम मोदी जी ने भी सम्बोधित किया। मोदी जी ने अपने भाषण को शुरू करते हुए जय सियाराम का जयघोष करवाते हुए बात शुरू की और कहा इसकी गूज पूरे विश्व भर मे फैले और सभी देशभक्त व रामभक्तो को कोटी कोटी प्रणाम करते हुए अपनी बात शुरू किया। मोदी जी ने मंच पर उपस्थित योगी जी, भागवत जी , माननीय आनंदीबेन पटेल जी व गोपालदास जी तथा सभी मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए कहा की यह मेरा सौभाग्य है कि मुझे यह अवसर प्राप्त हुआ। भारत आज भगवान भास्कर के सामने सरयू के किनारे एक इतिहास लिख रहा है। मोदी जी इस दौरान एक चौपाई पढी 'राम काज कीन्हे बिनु मोहि कहा विश्राम' । मोदी जी.ने कहा आज पूरा देश राममय व दीपमय है। सदियों का इंतजार आज समाप्त हुआ और राम लला के भव्य मंदिर निर्माण की बात कही।  उन्होंने यह भी कहा की रामजन्म भूमि आज मुक्त हुई। स्वातंत्रता आंदोलन की तरह ही राम मंदिर आंदोलन रहा।  मोदी जी ने.आज के दिन को त्याग तप का दिन बताया। राम हमारे मन मे गढे हुए हैं और भीतर घुल मिल गए हैं। हम किसी काम को करते हैं तो राम की तरफ ही देखते हैं। अस्तित्व मिटाने का प्रयास हुआ लेकिन राम हमारे मन मे बसे है। राम मर्यादा पुरुषोत्तम है। राममंदिर हमारी आधुनिक संस्कृति का प्रतीक बनेगा। यह मंदिर आने वाली पीढियों को आस्था  की प्रेरणा देता रहेगा। मोदी जी कहा की राम मंदिर बनने से इस क्षेत्र मे बहुत से अवसर बनेगे। उन्होंने इस समय को एक महोत्सव बताते हुए कहा यह नर को नारायण से जोडने का महोत्सव है। आज का दिन सत्य अहिंसा अस्था का अनुपम भेट है । मोदी जी ने अपने भाषण के दौरान गिलहरी बानर और केवट का भी जिक्र किया। रामसेतु के दौरान पत्थरों पर राम लिखे जाने का भी जिक्र किया। मोदी जी ने कहा कि श्री राम तेज मे सूर्य यश मे ईंद्र क्षमा मे पृथ्वी के तुल्य है । मोदी जी ने अनेक भाषाओं व अनेक देशो से राम के सम्बंध को बताया। राम सब के है और राम सब मे है। इसके साथ साथ मोदी जी अपने वक्तव्य के दौरान अनेक महत्वपूर्ण बातो का वर्णन किया। और राम के अयोध्या के बारे मे प्रभू राम के द्वारा कही गई बातो को भी याद दिलाया।

No comments