Breaking News

पुलिस मुठभेड मे धराया इनमिया बदमाश, पुलिस की पकड़ से बचने के लिए बदमाशो की फायरिग मे एसओजी प्रभारी समेत प्रभारी निरीक्षक घायल Dainik Mail 24

 रिपोर्टर : - वेद प्रकाश ओझा 



अमेठी : - पुलिस अधीक्षक अमेठी के दिनेश कुमार सिंह के निर्देशन पर चलाये जा रहे अपराध एवं अपराधियो की धरपकड़ हेतु अभियान के क्रम में दिनांक 25 सितम्बर 2020 की रात्रि लगभग 1:30 बजे मोहनगंज कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक विश्वनाथ यादव एवं एसओजी प्रभारी विनोद यादव तथा प्रभारी निरीक्षक थाना शिवरतनगंज धीरेन्द कुमार के टीम के साथ संदिग्ध व्यकित की तलाश एवं वाहन की तलाश तथा  वांछित वारटी चेक  करने के लिए अपने क्षेत्र मे मौजूद थे तभी मुखबिर से प्राप्त सूचना के आधार पर पुलिस की संयुक्त टीम ने अपराधियो की धरपकड़ के दौरान पुलिस तथा अपराधियो के बीच मुड़भेड़ हो गई। जिसमें जनपद प्रतापगढ़ गैगस्टर मे वांछित रु 25000 का इनामी व थाना मोहनगंज का टॉप टेन अपराधी सुनील दीक्षित सहित टॉप टेन अपराधी अल्ताफ पुलिस  मुड़भेड़ मे घायल हुआ। जिसके उपरांत दोनों शातिर अपराधी को पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया।गिरफ्तार हुए दोनों के पास एक अवैध देसी पिस्टल दो खोखा कारतूस 0.32 बोर अवैध तमंचा ,2 जिंदा कारतूस व 1खोखा कारतूस 315 बोर,बरामद हुआ। इसी मुड़भेड़ में एसओजी प्रभारी विनोद कुमार यादव तथा प्रभारी निरीक्षक शिवरतनगंज धीरेन्द कुमार सिंह घायल हो गए। तभी कुछ समय के बाद एक मोटरसाइकिल से 2 व्यकित आते हुए दिखाई पड़े ।जब पुलिस वालों ने इनको रोकने का प्रयास किया तब इन लोगों ने पुलिसकर्मियों पर फायर झोंक दिया। इस दौरान दोनों तरफ से गोलियों चली इस मुड़भेड़ मे एसओजी प्रभारी विनोद कुमार यादव के बाएं हाथ में कंधे के नीचे गोली लगी। तथा प्रभारी निरीक्षक शिवरतनगंज के पैर में घुटने के पास गोली लगी। जवाबी कार्यवाही में प्रभारी निरीक्षक मोहनगंज विश्वनाथ यादव द्वारा अपनी सरकारी पिस्टल से 1 राउंड फायर व प्रभारी निरीक्षक शिवरतनगंज धीरेन्द कुमार सिंह और एसओजी प्रभारी विनोद कुमार यादव के द्वारा एक एक राउंड फायरिंग किया गया। जिससे बदमाशो के पैर में गोली लगी। गिरफ्तार शातिर अपराधी से नाम पता पूछने पर एक ने अपना नाम सुनील दीक्षित बताया  दूसरे ने अपना नाम अल्ताफ उर्फ़ धर्मेन्द  कुमार बताया। दोनों अपराधी मोहनगजं क्ष्रेत्र का रहने वाला बताया है। अपराधी सुनील दीक्षित के कब्जे से एक अदद देसी पिस्टल तथा 2 खोखा कारतूस .32 बोर बरामद हुआ।वही पर अभियुक्त अल्ताफ के कब्जे से एक अदद देसी तमंचा 315 बोर 2 अदद जिंदा कारतूस 315 बोर बरामद हुआ।पकड़े गए दोनों अभियुक्त थाना मोहनगंज के टॉप टेन अपराधी है, इनमे से सुनील दीक्षित के ऊपर पूर्व में अमेठी बाराबंकी और प्रतापगढ़ जनपद में गभीर धाराओ  मे 19 मुकदमे दर्ज हैं। तथा अल्ताफ के ऊपर अमेठी और जनपद और प्रतापगढ़ मे कुल मिलाकर 14 मुकदमे दर्ज है। अमेठी पुलिस के द्वारा गिरफ्तार हुए दोनों अभियुक्तों के विरुद्ध सुसंगत धाराओ मे मुकदमा पंजीकृत कर  अभियुक्तों को जेल भेजा जा रहा है।







No comments