Breaking News

फिल्म सिटी बनने से एक लाख बेरोजगारों को रोजगार मिलेगा : रजनीकांत Dainik Mail 24

 


प्रयागराज। फिल्म सिटी को लेकर मुख्यमंत्री आवास पर फिल्म दुनिया से जुड़े हुए  कलाकारों  संगीतज्ञ  की एक लंबी बैठक संपन्न हुई है रजनीकांत ने  स्थानीय प्रशासन नजूल की भूमि नगर निगम जेल विभाग प्रयाग विकास प्राधिकरण यूपीएसआईडीसी व अन्य महत्वपूर्ण विभाग जिनके पास फालतू पड़े हुए भूमि हैं वह त्वरित गति से प्रस्ताव बनाकर प्रदेश सरकार को शीघ्र भेजें और अपना तर्क संगत फिल्म सिटी में क्या  हो सकता है जो प्रयागकी माटी में मौजूद है जिससे प्रयाग में फिल्म सिटी बन सके स्थानीय नागरिकों व जनप्रतिनिधियों लोकतंत्र के चौथे स्तंभ से अनुरोध है कि फिल्म सिटी बनवाने में अपना अहम योगदान दें   प्रदेश की संस्कृति का केंद्र जहां उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र, आकाशवाणी ,दूरदर्शन, प्रयाग संगीत समिति सहित संगीत एवं फिल्मी दुनिया की शिक्षा मिलती हो ऐसा इलाहाबाद विश्वविद्यालय हैं जहां 10,000 से अधिक लोक कला संस्कृति को प्रस्तुत करने वाले विभिन्न विभागों के माध्यम से पंजीकृत कलाकार जहां का उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र देश के प्रमुख 7 राज्यों के कलाकारों को संचालित एवं प्रशिक्षित करता होप्रयागराज में फिल्म शूट करने के लिए प्राकृतिक पहाड़ नदी जंगल और भूमि उपलब्ध है। जिस पर स्टूडियो बनायाजा सकता है    प्रयागराज के बिहार से सटे दक्षिण  सीमावर्ती विंध्याचल की पहाड़ी व मध्य प्रदेश से लगी भूमि पर कई नदियां पहाड़ स्थित है



प्रयागराज में  प्रदेश की संस्कृति का केंद्र जहां उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र, आकाशवाणी ,दूरदर्शन, प्रयाग संगीत समिति सहित संगीत एवं फिल्मी दुनिया की शिक्षा मिलती हो ऐसा इलाहाबाद विश्वविद्यालय हैं जहां 10,000 से अधिक लोक कला संस्कृति को प्रस्तुत करने वाले विभिन्न विभागों के माध्यम से पंजीकृत कलाकार जहां का उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र देश के प्रमुख 7 राज्यों के कलाकारों को संचालित एवं प्रशिक्षित करता हो सरस्वती विद्यमान है। कलाप्रेमी  यहां घर-घर मिलेंगे।
प्रयागराज के लगभग 10000 लोग : वर्तमान में मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में काम करते हैं। यह सभी विधाओं मैं पारंगत है। हिंदी सिनेमा की जब भी बात होगी वहां पर इस्तेमाल की जाने वाली भाषा   खड़ी बोली प्रयागराज में ही बोली जाती है। फिल्में प्री प्रोडक्शन और पोस्ट प्रोडक्शन में तकनीकी रूप से दक्ष लोगों तथा कम्प्यूटर के जानकारों की जरूरत होती है। यहां कई संस्थान हर वर्ष हजारों तकनीकी रूप से युवकों को पढ़ा कर दक्ष करते हैं। उक्त प्रमुख के अलावा बहुत सारी बातें फिल्म सिटी के लिए प्रयागराज में अनुकूल है। आशा है के वासियों के भावनाओं के अनुरूप इस प्रस्ताव पर विचार करने का कष्ट करें प्रयागराज से कई कार्यालय मुख्यालय लखनऊ चले गए जिससे प्रयागराज की अस्मिता और विरासत को ठेस पहुंची है फिल्म सिटी अगर प्रयागराज में बनती है तो यह जख्मों में बड़ा मल्हम होगा।
इस क्षेत्र के लोग अत्यंत गरीब और बेरोजगारी से जूझ रहे हैं, उन्हें नया जीवन मिलेगा यह क्षेत्र बुंदेलखंड हिस्से को छूता है  पूर्वांचल से भी जुड़ा हुआ है
हम सभी विनम्र प्रार्थना करते हैं हम सभी प्रयाग वासी  फिल्म सिटी के बनने से प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष एक लाख लोगों का रोजगार का सृजन होगा और आर्थिक रूप से स्थानीय नागरिक संपन्न ताकि ओर अग्रसर होंगे नागरिकों से अनुरोध है कि अपने स्तर से भी फिल्म सिटी बनने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करें  उक्त अवसर पर रजनीकांत नवनीत श्रीवास्तव शैलेश मधुर प्रियांशु श्रीवास्तव आभा श्रीवास्तव विकास श्रीवास्तव  संतोष सिंह शैलेश त्रिपाठी अनुराग श्रीवास्तव विपुल कुमार  अनूप श्रीवास्तव नेहा शर्मा सनी गुप्ता सुधीर शर्मा अमन पांडे मनीष श्रीवास्तव आदि लोगों ने प्रयाग में बने फिल्म सिटी के लिए अभियान की शुरुआत कर दी है।




No comments