Breaking News

हाथरस पर अमित शाह की बयानबाजी सीबीआई जांच को प्रभावित करने की कोशिश - प्रमोद तिवारी Dainik Mail 24

 

आलू तथा रबी की फसल के लिए बीज की उपलब्धता न होना भाजपा सरकार के किसान विरोधी होने का सीडब्लूसी सदस्य ने ठहराया पर्याप्त आधार


प्रतापगढ़।  कांग्रेस वर्किग कमेटी के सदस्य एवं उत्तर प्रदेश आउटरीच कमेटी के प्रभारी प्रमोद तिवारी ने बाजारो तथा सरकारी केन्द्रो पर आलू के बीज तथा रबी की अन्य फसलों के बीज की उपलब्धता न होने को चिंताजनक करार दिया है। उन्होनें कहा कि इससे किसान मजबूर हो गया है और उसकी खेती पिछड रही है। प्रमोद तिवारी ने सरकार व प्रशासन पर आक्रामक होते हुए कहा कि आलू समेत बीज की कालाबाजारी से किसान दोगुने व तीन गुने दाम पर खरीद के लिए विवश हो गया है। सोमवार को क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना के कैम्प कार्यालय पर पत्रकारो से रूबरू प्रमोद तिवारी ने कहा कि खाद बीज तथा डीजल आदि के क्षेत्र मे सरकार की विफलता से यह साबित हो गया है कि मौजूदा भाजपा सरकार पूरी तरह किसान विरोधी है। सीडब्लूसी सदस्य प्रमोद तिवारी ने सरकार से किसानों को उनकी खेती के पैदावार को कम होने से बचाये जाने के लिए फौरन समय रहते उचित मूल्य पर इसकी उपलब्धता की मांग की है। वहीं सीडब्लूसी सदस्य प्रमोद तिवारी ने हाथरस की वीभत्स से वीभत्सतम दुष्कर्म की वारदात को लेकर केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह के उस बयान पर कि हाथरस मे कुछ गलत नही हुआ है और इससे गृहमंत्री ने जिस तरह से यूपी सरकार को क्लीन चिट दी है इससे भी यह साबित हो गया है कि भाजपा अपराधियों के साथ खडी है और गृहमंत्री प्रदेश सरकार के कारनामो को छिपाने के लिए सीबीआई जांच तक को प्रभावित करने वाला बयान जारी करने मे कोई नैतिक जिम्मेदारी से हटने का भी संकोच नही कर रहे है। आउटरीच कमेटी प्रभारी प्रमोद तिवारी ने वार्ता के दौरान शहीद प्रधानमंत्री राजीव गांधी की स्मृति मे हुई राजीव गांधी सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता के सफल प्रतिभागियो व इसके आयोजन मे जुटे कार्यकर्ताओं को भी उनकी मेहनत को लेकर सराहना की। वहीं श्री तिवारी ने बलिया मे एसडीएम तथा सीओ की उपस्थिति मे दिनदहाड़े युवक की हुई हत्या को लेकर क्षेत्रीय भाजपा विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह के अपराधियों के महिमामण्डन किये जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि विधायक के बयान से भाजपा का चाल व चरित्र तथा चेहरा जनता के सामने आ गया है। बकौल प्रमोद तिवारी भाजपा विधायक के द्वारा हत्यारोपी के कदम को आत्मस्वार्थ कहकर सही ठहराना और पीडितो के खिलाफ मुकदमा कायम करने की चेतावनी दिया जाना भी कानून और न्याय का मजाक उडाया जाना है। उन्होने कहा कि बीजेपी विधायक सुरेंद्र नाथ तो अब मुकदमा न होने पर सीधे कार्रवाई की धमकी तक दे रहे है। इससे भी प्रदेश मे जंगलराज पूरी तरह प्रमाणित हो चुका है। प्रदेश मे विद्युत संकट पर भी राज्य सरकार की घेराबंदी करते हुए श्री तिवारी ने कहा कि संपूर्ण देश मे विद्युत परियोजना की उत्पादन क्षमता सरप्लस है। बकौल प्रमोद तिवारी ऐसे मे जबकि सरकार टोरण्टो सहित अन्य कंपनियों को मंहगे दाम पर बिजली खरीदकर सस्ते दाम पर उपलब्ध करा रही है तो आम आदमी को बिजली उपलब्ध न कराया जाना सरकार की नियति पर सवाल खडा करता है। उन्होनें कहा कि एक तरफ तो लोगों को बिजली नही मिल रही है वहीं छापेमारी के जरिए बढे हुए बिजली दर पर कनेक्शन काटे जा रहे है। श्री तिवारी ने कहा कि लोगों पर बिजली की आपूर्ति लगभग न के बराबर होने के बावजूद मुकदमा कायम कर उत्पीडन अन्यायपूर्ण है। वार्ता के दौरान कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना ने भी महिला अपराधो को लेकर प्रदेश की सरकार पर जमकर निशाना साधा। सीएलपी नेता मोना ने कहा कि प्रदेश मे महिलाओं तथा बच्चियो के खिलाफ हो रहे अपराध महिला सुरक्षा की र्दुगति को विचलित करने वाली तस्वीर बयां कर रही है। उन्होने महिलाओं तथा बच्चियों पर लगातार अपराध बढोत्तरी को लेकर चिंता जताते हुए कहा कि मौजूदा सरकार की कानून व्यवस्था की स्थिति इस कदर बिगड चुकी है कि कहीं भी आज बेटियां तक अपने को सुरक्षित नहीं महसूस कर पा रही है। इस मौके पर प्रतिनिधि भगवती प्रसाद तिवारी, मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल, चेयरपर्सन प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी, केडी मिश्र भी मौजूद रहे।








No comments