Breaking News

यातायात नियम की उड़ रही धज्जियां Dainik Mail 24

 

 रिपोर्ट : वेद प्रकाश ओझा


मालवाहनो मे ने ढोये जा रहे हैं लोग परिवहन व यातायात नहीं कर रहा कार्रवाई


शुकुल बाजार अमेठी: यातायात नियम व मोटरव्हीकल एक्ट की खुलेआम धज्जिायां उड़ाई जा रही है। विकासखंड सहित अधिकांश क्षेत्र में मालवाहक वाहनों में सवारियों को भेड़-बकरियों की तरह ठूंस-ठूंस कर ढोया जा रहा है, इसके चलते आए दिन दुर्घटनाएं हो रही है।



बावजूद इसके यातायात पुलिस व स्थानीय पुलिस द्वारा कार्रवाई के नाम पर खानापूर्ति कर औपचारिकता निभा दी जाती है।

मोटर व्हीकल एक्ट के तहत मालवाहक व यात्री वाहनों के लिए लाने ले जाने के लिए अलग-अलग वाहनों का पंजीयन किया जाता है, लेकिन विकासखंड क्षेत्र सहित दर्जनों गांव में निजी वाहन मालिक मोटर व्हीकल एक्ट की खुलेआम धज्जिायां उड़ा रहे हैं। अनफिट ट्रैक्टर और पिकप में भी ठूंस-ठूंस कर यात्री लाया ले जाया जा रहा है, ग्रामीण इलाकों से गुजरने वाले वाहन संचालकों को नियमों से कोई सरोकार नहीं है। यह सब कानून व नियमों को ताक में रखकर किया जा रहा है। इसके बावजूद भी परिवहन विभाग व यातायात पुलिस द्वारा वाहन संचालकों पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती। क्षेत्र में अधिकांश मालवाहक वाहनों में क्षमता से अधिक लोगों को भरकर ले जाया जाता है। मालवाहक ट्रैक्टर, पिकअप में बैठने की कोई सुविधा नहीं होती है। ऐसे में यात्री खड़े होकर यात्रा करते हैं, कई यात्री वाहन में लटक कर भी यात्रा करते हैं,वाहन चलने के बाद ब्रेकर व उबड़ होने से खतरा बना रहता है। शादी विवाह व मांगलिक कार्यों सहित अन्य कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए अधिकांश ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को लाने ले जाने के लिए पिकअप ट्रैक्टर सहित अन मालवाहक वाहनों का उपयोग किया जाता है। वाहन मालिक अधिक कमाई के चक्कर में मालवाहक वाहनों में सुरक्षा नियमों की अनदेखी कर यात्रियों को सामानों की तरह भरकर ले जाते हैं। वहीं पुलिस द्वारा भी ऐसे वाहन मालिकों पर कार्रवाई नहीं की जाती ऐसे में वाहन मालिकों के हौसले बुलंद है।








No comments