Breaking News

लापरवाही को लेकर डॉक्टर की सेवा समाप्त Dainik Mail 24

 

प्रयागराज। कोरोना संक्रमित मरीज की मौत के मामले में लापरवाही पाए जाने पर फूलपुर सीएचसी पर तैनात आयुष के संविदा डॉक्टर की सेवा समाप्त कर दी गई है। वहीं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक को भी प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई है। यह मामला 07 अक्टूबर को फूलपुर सीएचसी (सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र) का है। विदित हो कि एक महिला कोरोना की जांच कराने सीएचसी गई थी जिसमें वह पॉजिटिव पायी गई लेकिन उसे घर भेज दिया गया। इस मामले में लापरवाही की गई। पोर्टल पर इसकी फीडिंग शाम को की गई। पोर्टल पर फीड होते ही आरआर टीम (रैपिड रिस्पांस टीम) फूलपुर को इसकी सूचना दे दी गई। जानकारी होने के बाद भी टीम में शामिल चिकित्सक ने मरीज को नहीं देखा। दूसरे दिन उस महिला मरीज की मौत हो गई। सीएमओ डॉ. जीएस वाजपेयी ने बताया कि आरआरटी टीम में लीडर के रूप में मौजूद आयुष चिकित्सक डॉ. हृदय लाल मौर्या की सेवा समाप्त कर दी गई है। फूलपुर सीएचसी के अधीक्षक डॉ. सुनील कुमार पांडेय को इलाज में लापरवाही का जिम्मेदार मानते हुए प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई। वहीं शहर के तीन निजी अस्पतालों अमर ज्योति हॉस्पिटल बलुआघाट, नाजरेथ हॉस्पिटल व हार्ट लाइन सिविल लाइंस को स्वास्थ्य विभाग की ओर से नोटिस दी गई। इन अस्पतालों के चिकित्सीय स्टाफ ने मरीज को बिना ऑक्सीजन सपोर्ट के एसआरएन रेफर कर दिया था।








No comments