Breaking News

गम व आंसू के बीच दफन हुए जिगर के टुकड़े, बाबूतारा मे दुघर्टना मे छात्रों की मौत से कोहराम Dainik Mail 24

 रिपोर्टर - अरबिंद दुबे


प्रतापगढ़। लालगंज कोतवाली के नेशनल हाइवे पर बुधवार को सड़क दुर्घटना मे छात्रों की मौत को लेकर गुरूवार को भी गांव मे गम का माहौल देखा गया। छात्रो के अंतिम संस्कार को लेकर गांव मे सीओ कुण्डा समेत कई थानो की फोर्स व पीएसी एहतियातन डटी दिखी। हालांकि परिजनो ने मृतको का शांतिपूर्ण ढंग से गांव के कब्रिस्तान मे अंतिम संस्कार कर दिया। कोतवाली के बाबूतारा गांव मे सुफियान 20 पुत्र बशीर तथा आमिर 12 पुत्र मंजूर की बुधवार को बोलेरो की टक्कर से दर्दनाक मौत हो गई थी। देर रात मृतको का शव गंाव पहुंचा। शव पहुंचते ही दोनों घरो मे कोहराम मच गया। रात भर मृतक छात्रों के परिजन शव के पास रोते बिलखते रहे। गुरूवार की सुबह मृतको के अंतिम संस्कार की सूचना पर कोतवाली पुलिस गांव पहुंची। एहतियातन गांव मे सीओ कुण्डा जीतेन्द्र सिंह परिहार व लालगंज तथा मानिकपुर, उदयपुर, हथिगवां के भी थानाध्यक्ष फोर्स के साथ डटे रहे। गांव मे अभी लगभग एक पखवारे पूर्व पुलिस दबिश के दौरान बुजुर्ग मकबूल की मौत हो गयी थी। मकबूल की मौत को लेकर भी काफी हंगामा उठ खडा हुआ था। ऐसे मे पुलिस दुर्घटना मे मृतक दो-दो छात्रो की मौत को लेकर सशंकित हो उठी थी। एहतियातन अंतिम संस्कार होने तक भारी फोर्स का गांव मे जमावडा बना रहा। इसी बीच कोतवाली के ही बरिस्ता गावं मे हत्या की वारदात को लेकर आक्रोश की स्थिति बन गई। एक ही दिन मे कोतवाली क्षेत्र के दो गांवो मे दोहरी चुनौती मे फंसी पुलिस बाबूतारा मे मृतको के अंतिम संस्कार का रस्म पूरा होते ही आननफानन मे बरिस्ता के लिए रवाना हो गयी। घटना को लेकर मृतक छात्रो के परिजनो मे कोहराम मचा हुआ है। दोनों घरो मे महिलाओ की स्थिति भी काफी नाजुक देखी गई। गौरतलब है कि दुर्घटना को लेकर बुधवार को ही पुलिस ने बोलेरो चालक के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया था।








No comments