Breaking News

तरुण चेतना द्वारा किशोरियों को निःशुल्क सैनेटरी पैड व साबुन का वितरण किया गया Dainik Mail 24

 

माहवारी नहीं शर्म की बात, यह तो है ईश्वर की सौगात - नसीम अंसारी


प्रतापगढ़। माहवारी कोई शर्म की बात नहीं है, यह ईश्वर की एक खूबसूरत सौगात है, जो प्रत्येक किशोरी व महिला के लिए एक आवश्यक प्रक्रिया है । उक्त विचार आज उडै़याडीह में किशोरियों के लिए समा रिसोर्स सेंटर नईदिल्ली के सहयोग से सैनेटरी पैड व साबुन वितरण के अवसर पर तरुण चेतना के निदेशक नसीम अंसारी ने व्यक्त किये । उन्होंने बताया कि इसके बिना महिलाओं व किशोरियों को समाज में अनेक प्रकार की समस्यायों व कमेन्ट का सामना करना पड़ता है। श्री अंसारी ने माहवारी के दौरान सामाजिक कुरीतियों व व्यक्तिगत स्वच्छता पर भी विस्तार से चर्चा की।

          इस अवसर पर महिला सशक्तिकरण पर उप राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित मुन्नी बेगम ने कहा कि किशोर-किशोरियों को किशोरावस्था के दौरान होने वाले परिवर्तनों के बारे में ज्यादातर को बहुत कम जानकारी होने के कारण उन्हें कभी कभी अत्यंत तनाव का सामना करना पड़ता है इसलिए परिवार में माहवारी, प्रजनन स्वास्थ्य व पोषण से जुडी भ्रांतियों पर खुल कर चर्चा करना जरूरी है। इस अवसर पर समा रिसोर्स सेंटर नईदिल्ली के सहयोग से तरुण चेतना द्वारा 36 किशोरियों को उच्च क्वालिटी की 2 - 2 पैकेट सैनेटरी पैड व 1 - 1 साबुन वितरित किया गया. इस दौरान कुछ किशोरियों ने अपने अनुभव भी साझा किये है।








No comments