Breaking News

नकली कागजात पर नौकरी कर रही शिक्षिका बर्खास्त Dainik Mail 24

 

प्रयागराज। प्रदेश में अनामिका प्रकरण उजागर होने के बाद शिक्षा महकमा हरकत में है। विभाग के शिक्षकों के शैक्षिक दस्तावेजों की पड़ताल तेज हो गई है। अंतरजनपदीय तबादला कराकर 2006 से प्रयागराज में नौकरी कर रही एक शिक्षिका की सेवा समाप्त कर दी गई। बीएसए संजय कुशवाहा ने बताया कि पूर्व माध्यमिक विद्यालय अनौरा में तैनात सहायक अध्यापिका रमा सिंह के दस्तावेजों की जांच पिछले दिनों की गई। वे फर्जी प्रतीत हुए। उनके खाते में प्रयोग किया जा रहा पैनकार्ड भी जांचा गया तो उसका प्रयोग आजमगढ़ में भी होने की जानकारी हुई। इस संबंध में रमा सिंह को नोटिस देकर जवाब मांगा गया, लेकिन वह उपस्थित नहीं हुईं। इसके लिए उन्हें कई अवसर दिए गए फिर भी जवाब नहीं प्रस्तुत किया गया जिस पर उन्हें बर्खास्त कर शासन को अवगत करा दिया गया है। अब उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराकर रिकवरी भी कराई जाएगी। रमा सिंह की मूल तैनाती आजमगढ़ में 1996 में हुई थी। 2006 में अंतरजनपदीय तबादला कराकर वह प्रयागराज आई थी। उसके बाद जांच के दौरान उनके नाम का पैनकार्ड आजमगढ़ में प्रयोग होने की जानकारी हुई। इसके बाद संदेह होने पर अन्य शैक्षिक दस्तावेज भी जांचे गए। वे भी फर्जी पाए गए। अभ्यर्थी से जब मूल प्रमाणपत्र मांगे गए थे उसने देने से स्पष्ट इन्कार कर दिया। इसके बाद जांच में साफ हो गया कि वह फर्जी दस्तावेजों के सहारे नौकरी पा गई थी।








No comments