Breaking News

शिक्षा का स्वरूप सामाजिक एवं राष्ट्रीय परिवेश को सुदृढ़ बनाने के साथ योग्य पीढ़ी पर हो आधारित - प्रमोद तिवारी Dainik Mail 24

 

विभिन्न शिक्षण संस्थानों के अध्यक्ष पं. रामअंजोर मिश्र की जयंती पर सीडब्लूसी मेंबर प्रमोद तिवारी ने दिया ज्ञान और आधात्म तथा विज्ञान के समन्वय पर जोर



प्रतापगढ़। लालगंज नगर स्थित राम अंजोर मिश्र इण्टर कालेज के प्रमोद सभागार मे गुरूवार को विभिन्न शिक्षण संस्थानो के संस्थापक एवं पूर्व विधायक पं. रामअंजोर मिश्र की जयंती कोरोना प्रोटोकॉल के मानक मे मनाई गई। कांग्रेस वर्किग कमेटी के सदस्य एवं आउटरीच कमेटी के यूपी प्रभारी प्रमोद तिवारी ने शिक्षाविद् पं. रामअंजोर मिश्र की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किये। कार्यक्रम का शुभारंभ प्रमोद तिवारी ने माँ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण तथा दीप प्रज्ज्वलन कर किया। बतौर मुख्यअतिथि श्री तिवारी ने कहा कि शिक्षा को विकास के क्षेत्र मे दूरदर्शी नीतियां तैयार करने के लिए समर्थ दिशा मे केन्द्रित किया जाना चाहिए। उन्होने कहा कि ज्ञान विज्ञान तथा आध्यात्म के समन्वय से ही योग्य पीढ़ी देश व समाज को चुनौतियों से उबार सकती है। श्री तिवारी ने शिक्षाविदों का आहवान किया कि शिक्षा का स्वरूप वंचितो को न्याय तथा सामाजिक एवं राष्ट्रीय परिवेश मे विकास के क्षेत्र मे समानता और मजबूतीपरक बनाए जाने मे वह सर्वश्रेष्ठ योगदान दें। प्रमोद तिवारी ने कहा कि मानव संरचना को सृजन के क्षेत्र मे मूल्यवान वैचारिक शक्ति की ऊर्जा के संचय के लिए भी शिक्षा मजबूत प्रेरणा बनकर उभरे। लालगंज को शिक्षा के हब के रूप मे लगातार मिल रहे विकास की कड़ी मे श्री तिवारी ने कहा कि नगर को स्टेट तथा नेशनल हाइवे से कई तरफ से जोडने का मकसद भी शिक्षित पीढ़ी को स्वरोजगार के प्रति प्रोत्साहन दिया जाना है। उन्होने पं. रामअंजोर मिश्र के कालजयी व्यक्तित्व को याद करते हुए नगर पंचायत के विस्तारीकरण कराए जाने की भी घोषणा की। आयोजन समिति द्वारा शिक्षा के क्षेत्र मे सर्वश्रेष्ठ नेतृत्व के लिए प्रमोद तिवारी को शैक्षिक नेतृत्व 2020 का सारस्वत सम्मान प्रदान करते हुए उन्हें अंगवस्त्रम् तथा अभिनंदन पत्र भी समर्पित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता बहुगुणा पीजी कालेज के प्राचार्य डा. आरपी मिश्र व संचालन शिक्षक जमुना प्रसाद मिश्र ने किया। कार्यक्रम के संयोजक एवं प्रधानाचार्य सुनील शुक्ल ने शैक्षिक प्रगति आख्या प्रस्तुत की। प्रारम्भ मे डा. वीरेन्द्र मिश्र व सौरभ मिश्र ने स्व. रामअंजोर मिश्र के शैक्षिक एवं सामाजिक क्षेत्र मे विविध योगदानों का खाका खींचा। डा. पूर्णिमा मिश्रा एवं सुशीला मिश्रा ने अतिथियो का स्वागत किया। कार्यक्रम के सह संयोजक पहाड़पुर के प्रधानाचार्य सुशील पाण्डेय तथा कमला नेहरू बालिका विद्यालय की प्रधानाचार्या गीता मिश्रा व पुनीत इण्टर कालेज के प्रधानाचार्य बीएन तिवारी ने संस्थापक दिवस की महत्ता पर प्रकाश डाला। सांस्कृतिक एवं साहित्यिक परिषद की ओर से साहित्यकार विशालमूर्ति मिश्र तथा संगीतकार विनय शुक्ल के निर्देशन मे छात्राओं ने सरस्वती वंदना, स्वागत गीत, कौव्वाली व एकता गीत की मनोहारी प्रस्तुतियां दी। आभार प्रदर्शन उप प्रधानाचार्य बीएन सिंह ने किया। इस मौके पर पूर्व प्राचार्य दयाशंकर पाण्डेय, राजेश कुमार मिश्र, डा. ऋचा सुकुमार, डा. आरएस त्रिपाठी, आचार्य रामअवधेश मिश्र, ज्ञानप्रकाश शुक्ल, प्रकाशचंद्र मिश्र, डा. शिवमूर्ति शास्त्री, डा. शक्तिधर नाथ पाण्डेय, चेयरपर्सन प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी, प्रमुख ददन सिंह, डा. डीपी ओझा, पं. रामफेर पाण्डेय, रामेश्वर प्रसाद शुक्ल, नरेन्द्र तिवारी, रामअवध तिवारी, कृष्णानंद त्रिपाठी, विपिन प्रकाश मिश्र, राकेश तिवारी, उदयशंकर दुबे, डा. राजकुमार पाण्डेय, पप्पू जायसवाल, वज्रघोष ओझा, माताफेर पाल, शास्त्री सौरभ, इं. सुनील पाण्डेय, केडी मिश्र, त्रिभु तिवारी, अंबुज मिश्र आदि रहे। इसके बाद सीडब्लूसी मेंबर प्रमोद तिवारी ने नगर के सीएचसी के समीप अमरेंद्र सिंह के संयोजन मे एसएस फार्मास्युटिकल्स चिकित्सीय संस्थान को भी नगरवासियो को समर्पित किया। कैम्प कार्यालय पर लोगों से मुलाकात कर श्री तिवारी ने समस्याओं के निराकरण कराए जाने का भी भरोसा दिलाया।

Add caption








No comments