Breaking News

कवियों ने कविताओं के माध्यम से बाँधा समा, लोग हुए मंत्र मुग्ध Dainik Mail 24

 


हन्डौर मे सावित्री शैक्षणिक एंव समाज कल्याण के तत्वावधान मे आयोजित हुआ कार्यक्रम



प्रतापगढ़। सावित्री शैक्षणिक एवं समाज कल्याण  समिति  का 18वां  कवि सम्मेलन एवं मुशायरा  हन्डौर मे  सम्पन्न हुआ जिसमे विभिन्न विधाओ के कवियो ने एक से बढ़ कर रचनाये प्रस्तुत कर उपस्थित श्रोताओ  को मन्त्र मुग्ध कर दिया कार्यक्रम का आगाज ग्राम प्रधान मनोज सिंह द्वारा दीप प्रज्ज्वलन के बाद हुआ कवि  उसके बाद डा.नीलिमा की वाणी वन्दना से शुरु हुए कवि सम्मेलन मे दिल्ली के शायर राजीव रियाज ने जब अपनी शायरी ''जिस आदमी पे बहुत मैने ऐतबार किया, कटे जो पर तो उसी ने मेरा शिकार किया प्रस्तुत किया तो श्रोता वाह वाह कर उठे लखीमपुर खीरी से पधारी रंजना सिंह हया ने अपनी गजल एक नजर देखने तुझको आयी हूँ मैं, देख लूँ एक नजर फिर चली जाऊंगी से मंच को उंचाईया दी प्रयागराज के हास्य के कवि अशोक स्नेही ने जब ससुराल गाथा उर्फ दुर्द्शा पुराण प्रस्तुत कर लोगो को लोट पोट  कराया अर्चना ओजस्वी ने देश प्रेम की बाते करते हुए अपनी रचना हमारे देश के वीरो की अनुपम सी कहानी है,रगो मे बह रहा जो वो हिन्दुस्तानी से लोगो मे जोश भरा इसके अलावा अनूप अनुपम, डॉ नागेन्द्र अनुज  शिवम भगवती,  राधेश पांडेय ,गजेन्द सिंह विकट यमुना प्रसाद अबोध ,हरिवंश शुक्ल शौर्य अबरार अहमद,अनिल मिश्र ने काव्य पाठ  किया अध्यक्षता अनिल प्रताप तिवारी संचालन नीरज पांडेय अतिथियो का स्वागत संजय शुक्ल रमेश पांडेय ने किया आभार संजोयक अनूप त्रिपाठी मे जताया ।इस मौके पर ज्ञान प्रकाश शुक्ल, श्याम शंकर द्विवेदी, समाज शेखर, कमलेश सिंह, आलोक कुशवाहा, शिव शंकर ओझा, वीरेंद्र तिवारी, आशीष तिवारी , राकेश पांडेय, विनोद पांडेय, शिवम त्रिपाठी, निक्की तिवारी,राजकुमार द्विवेदी एडवोकेट, लक्ष्मीकांत दुबे, राजेश दुबे, चन्द्रभान दुबे, लालजी दुबे, कल्लन वेग आदि मौजूद रहे ।








No comments