Breaking News

महराजगंज(उ०प्र०)अब आंगनबाड़ी केन्द्र के लाभार्थियों को मिलेगा सूखा राशन Dainik Mail 24

 

रिपोर्ट-स्वरूप श्रीवास्तव महराजगंज 06-11-2020


अब जनपद में आंगनबाड़ी केन्द्रों के लाभार्थियों के बीच कुछ बदलाव के साथ राशन वितरण होगा। इसके लिए महिला एवं बाल विकास विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। राशन वितरण में स्वयं सहायता समूहों एवं कोटेदारों की भी भूमिका होगी। नयी व्यवस्था के तहत लाभार्थियों को अब अनुपूरक पोषाहार की जगह सूखा राशन जैसे गेहूं, दाल, चावल व दुग्ध पदार्थ दिया जायेगा। वितरण दिवस को पोषण उत्सव के रूप में मनाया जाएगा।

जिला कार्यक्रम अधिकारी ( डीपीओ) शैलेन्द्र कुमार राय ने बताया कि जिले के सभी 3133 आंगनबाड़ी केन्द्रों के लाभार्थियों को सूखा राशन देने# के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ-साथ कोटेदारों और स्वयं सहायता समूहों को भी जिम्मेदारी सौंपी गयी है। यह व्यवस्था जल्द ही लागू हो जाएगी। व्यवस्था में हुए इस बदलाव के संबंध में जिले के सभी बाल विकास परियोजना अधिकारियों , मुख्य सेविकाओं व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी अवगत कराया जा चुका है।

डीपीओ ने बताया कि विभाग ने शिशु, गर्भवती, धात्री व किशोरियों के स्वास्थ्य एवं सही पोषण को गति प्रदान करने के उद्देश्य से आंगनबाड़ी केन्द्रों के लाभार्थियों को दिए जा रहे फोर्टीफाइड अनुपूरक पोषाहार (वीनिंग फूड, मीठा, नमकीन, दरिया व लड्डू प्रीमिक्स ) के स्थान पर सूखा राशन गेहूं, दाल, चावल व दुग्ध पदार्थ जैसे देसी घी, स्किम्ड, मिल्क पाउडर देने का दिशा-निर्देश मिला है।

———


लाभार्थियों का विवरण एक नजर में


-7 माह से 3 साल के लाभार्थियों की कुल संख्या-1,51,426

-3 से 6 साल के कुल लाभार्थियों की संख्या-96798

-गर्भवती/ धात्री लाभार्थियों की कुल संख्या-54024

-अति कुपोषित बच्चों की कुल संख्या-4998

-किशोरी लाभार्थियों की कुल संख्या-1824

———


किस लाभार्थी को मिलेगा कितना सूखा राशन


डीपीओ ने बताया कि 11 से 14 वर्ष की किशोरियों को प्रतिमाह दो किलो गेहूं, एक किलो चावल, 750 ग्राम दाल एवं तिमाही 450 ग्राम देशी घी, 750 ग्राम स्किम्ड मिल्क पाउडर पोषाहार दिया जाएगा। जबकि 6 माह से 3 वर्ष के बच्चों को प्रतिमाह डेढ़ किलो गेहूं,एक किलो चावल, 450 ग्राम दाल एवं तिमाही 450 ग्राम देशी घी, 400 ग्राम स्किम्ड मिल्क पाउडर दिया जाएगा।

इसी प्रकार 3 वर्ष से 6 वर्ष के बच्चों को डेढ़ किलो गेहूं, एक किलो चावल व 400 ग्राम स्किम्ड मिल्क पाउडर तथा 3-6 वर्ष के अति कुपोषित बच्चों को ढाई किलो गेहूं, डेढ़ किलो चावल, 500 ग्राम दाल एवं तिमाही 900 ग्राम देशी घी, 750 ग्राम स्किम्ड मिल्क पाउडर पोषाहार के रूप में दिया जाएगा।

गर्भवती व धात्री महिलाओं को भी प्रतिमाह दो किलो गेहूं, एक किलो चावल व 750 ग्राम दाल तथा तिमाही 450 ग्राम देशी घी व 750 ग्राम स्किम्ड मिल्क पाउडर दिया जाएगा!







No comments