Breaking News

महराजगंज(उ०प्र०) बृजमनगंज रेलवे स्टेशन से ट्रेनों का संचालन न होने पर जनप्रतिनिधि व ब्यापारियों मे अक्रोश Dainik mail 24

 

रिपोर्ट-स्वरूप श्रीवास्तव महराजगंज 13-12-2020



महराजगंज नगर पंचायत बृजमनगंज में ब्रिटिश साम्राज्य के समय स्थापित रेलवे स्टेशन आज वैश्विक महामारी मे केंद्र सरकार ने रेल संचालन बंद किया 9 महिने बाद गोरखपुर से ट्रेनो का संचालन शुरू किया गया परंतु बृजमनगंज रेलवे स्टेशन पर गाड़ी न रुकने से क्षेत्र की जनता की परेशानियों को यहां के जनप्रतिनिधियों से समस्या कहा जाता है परंतु सरकार तक बात नहीं पहुंचने से काफी दिक्कतों का सामना करना पड रहा है। कोरोना को देखते हुए मार्च महीने में बंद हुई ट्रेनों को चलाने के लिए इन दिनों मांग जोर पकड़ने लगी है।राष्ट्रीय जनहित कामगार कर्मचारी महासंघ फरेंदा विधानसभा के उपाध्यक्ष जगदम्बा जायसवाल  ने कहा कि अब कोरोना का खतरा कम हो गया है सरकार को पैसेंजर ट्रेनों का संचलन व बृजमनगंज में इंटरसिटी का ठहराव कराने की मांग की है। बृजमनगंज में  ट्रेन का संचालन बंद होने से क्षेत्र की आम जनता काफी परेशान है। ट्रेन संचलन बंद होने से यात्रियों को काफी कठिनाई हो रही है। हर रोज बड़ी संख्या में लोगों का लखनऊ  गोरखपुर आनंदनगर नौतनवां, बढ़नी शोहरतगढ़ तुलसीपुर बलरामपुर गोंडा  तक आना-जाना होता है। एक तो बृजमनगंज से न ही कोई इन साधनों के लिए कोई रोडवेज है। और न ही प्राईवेट बस  उन्होंने कहा कि कहा कि ट्रेन संचलन बंद होने से हर वर्ग के लोग परेशान हैं। नौकरी, व्यवसाय करने वालों, छात्रों, श्रमिकों के सामने यह एक बड़ी समस्या है।सभी को प्राइवेट वाहनों से यात्रा करनी पड़ रही है, जिसमें ट्रेन के किराये का दूना देना पड़ता है। वाहन भी खटारा होते हैं, हमेशा दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। ट्रेन संचलन शुरू कर सरकार को लोगों की इस गंभीर समस्या का समाधान करना चाहिए। एवमं बृजमनगंज में इंटरसिटी का भी ठहराव होना चाहिए। युवा समाज सेवी प्रधानप्रतिनिधि विनोद जायसवाल,प्रधानप्रतिनिधि दिलीप चौधरी, भाजपा नेता राकेश जायसवाल,युवा नेता नन्हे सिंह, पूर्व जिला पंचायत सदस्य योगेंद्र यादव, सौरभ जायसवाल, मनोज जायसवाल, अनूप कसौधन,नटवर जी गोयल, विष्णु जायसवाल, विमल जायसवाल उधोग व्यापार मंडल अध्यक्ष किशन जायसवाल(मंटू) अमित जायसवाल जगदम्बा जायसवाल गौरव जायसवाल, मुनीरआलम(राजन) विनय कसौधन, डॉ आनन्द शास्त्री, सुहेल मास्टर, वेद प्रकाशपूरी, आदि जनप्रतिनिधियों ने शासन प्रशासन से मांग की है!








No comments