Breaking News

तीन दिन पूर्व अपहरण हुए पीयूष का हत्यारा कोई और नही, निकला उसका अपना ही नाबालिग चाचा Dainik Mail 24

 

रिपोर्ट-स्वरूप श्रीवास्तव महराजगंज 12-12-2020

 


महराजगंज_तीन महीने पहले जिस अपहरणकर्ता ने मासूम पीयूष गुप्ता को अगवा किया था, वह रिश्ते में मासूम का चाचा लगता है। एसपी प्रदीप गुप्ता ने बताया कि यह मामला घरेलू विवाद का था और नौंवी में पढ़ने वाले चौदह साल के मनीष ने मासूम बच्चे का अपहरण किया था। 

अपहरण के बाद उसी ने मासूम की हत्या कर दी और शव को ले जाकर खेत में दफना दिया।

एसपी ने बताया कि मनीष ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

हैदराबाद में ठेकेदारी का काम करने वाले महराजगंज जिले के कोतवाली क्षेत्र के बांसपार बैजौली गांव के दीपक गुप्ता के इकलौते पुत्र पीयूष का तीन दिन पहले बुधवार को दिन-दहाड़े अपहरणकर्ता मनीष ने अगवा कर लिया था। तीन दिन से पुलिस हवा में तीर चला रही थी, घर वाले बुरी तरह रो रहे थे, जैसे जैसे समय बीत रहा था, मासूम की सकुशल वापसी की उम्मीदें दम तोड़ रही थीं और अंत में यह आशंका सच साबित हुई। पुलिस बच्चे की सकुशल बरामदगी में बुरी तरह नाकाम रही। बच्चे की हत्या के बाद मिली लाश से इलाके में चारों तरफ हड़कंप, गुस्से और मातम का माहौल है। हैरान करने वाली बात यह है कि अपहरणकर्ता ने मासूम का हाथ पैर व मुंह बांध गांव के ही एक मकान में सीढ़ी के नीचे बने कमरे में रखा था, इसके बावजूद पुलिस की टीमें मासूम को ढूंढ निकालने में बुरी तरह नाकाम रहीं। 

पुलिस ने मासूम का शव बरामद कर लिया है और मनीष को हिरासत में ले लिया है। इधर मृत बच्चे के परिजनों के घर खूब कोहराम मचा हुआ है।

लोगों का कहना है कि तीन महीने पहले जब अपहरणकर्ता ने मासूम को उठाने की धमकी दी थी तभी पुलिस ने केस को गंभीरता से लिया होता तो शायद ये नौबत नहीं आती और एक मासूम की जान बच जाती!








No comments