Breaking News

भागवत कथा जीवन का आनंद है:- पं. शेषधर मिश्र अनुरागी जी महाराज Dainik mail 24




प्रतापगढ़ lनींवी खुर्द गारापुर ग्रामीण अंचल में चल रहे श्रीमद्‌भागवत कथा में व्यासपीठ से पं. शेषधर मिश्र अनुरागी जी महाराज ने कहा कि जीवन के अच्छे दिन कब निकल जाते हैं, पता नहीं चलता। वो दिन अच्छे होते हैं जो भगवान के साथ और भगवान के चरणों में व्यतीत हों। संसार में रहकर कितने ही दिन व्यतीत कर लो, बहुत मुश्किल होती है। भागवत कथा जीवन का आनंद है, जीवन का फल है। जिन्हें मानव जीवन मिल गया हो, उन्हें भगवान से और भगवान की कथा से बहुत कुछ मिलता है। भागवत कथा से जुड़े रहना चाहिए और इसी में जीवन की सफलता है। भागवत कथा की शुरुआत भागवत आरती के साथ की गई। महाराज श्री ने प्रभु के रसमय स्वरूप और श्रीकृष्ण की सुंदर लीलाओं का वर्णन भक्तों को श्रवण कराया। श्रीमद्‌भागवत कथा के सप्तम दिवस पर द्वारिका लीला, सुदामा चरित्र, परीक्षित मोक्ष, व्यास पूजन पूर्णाहुति का वृतांत सुनाया जाएगा।








No comments