Breaking News

Pratapgarh दबंग भतीजा दे रहा है जान से मारने की धमकी, आरोप Dainik mail 24

 

पीड़ित ने लगाई जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक से न्याय की गुहार


पुलिस द्वारा कठोर कार्रवाई न करने से पीड़ित परिवारों में आक्रोश


प्रतापगढ़। दबंग की दबंगई से पीड़ित परिवार परेशान पुलिस द्वारा नहीं मिल पा रहा न्याय और दबंग भतीजा दे रहा है जान से मारने की धमकी पीड़ित परिवार सहमा हुआ है‌ और इसकी लिखित शिकायत जिला अधिकारी व पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ से न्याय की गुहार लगाया है । मामला कोहंडौर थाना क्षेत्र के मदूरा रानीगंज गांव का है जहां कोहंडौर थाना क्षेत्र के मदूरा रानीगंज गांव निवासी काली सहाय का लड़का राज तिवारी सोलह नवम्बर को किसी कार्य वर्ष खेत की तरफ जा रहा था कि पहले से घात लगाए बैठे दबंग बड़े पापा का लड़का सुशील तिवारी उसे रोककर मारने पीटने लगा और गंभीर रूप से घायल कर दिया। यह देख आसपास के लोगों ने किसी तरह उसकी जान बचाई। राज तिवारी घर आकर घटना की जानकारी अपने पिता को दी जानकारी मिलने पर पिता ने जब घर पर उलाहना लेकर गया तो दबंग भतीजे ने चाचा के ऊपर टूट पडा और आरोप है कि उसे मारने - पीटने लगे । आरोप है कि दबंगों के पिटाई में काली सहाय का पैर टूट गया और वह जमीन पर गिरकर तड़पने लगा। लोगों के बीच बचाव के बाद किसी तरह उसकी जान बच सकी ।पीड़ित ने इसकी सूचना डायल एक सौ बारह पुलिस को दी जिसके बाद मौके पर पहुची पुलिस ने घायल को एंबुलेंस से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोहंडौर भिजवाया जहां पर घायल का प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर हालत को देखते हुए उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया था ।पैर टूटने के वजह से घायल के पैर का ऑपरेशन कराना पड़ा । मामले मे पीड़ित ने नामजद तहरीर देते हुए कोहंडौर पुलिस से न्याय की गुहार लगाया था जिसमें पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल करने के बाद मुकदमा तो दर्ज कर लिया लेकिन आज तक दबंग के खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं की । जिससे दबंग सुशील तिवारी के हौसले बुलंद हैं और आए दिन जान से मारने की धमकी दे रहा है पीड़ित ने लगाया आरोप। पीड़ित ने विपक्षियों पर आरोप लगाते हुए न्याय की आस में जिला अधिकारी व पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ से भी फरियाद कर न्याय उम्मीद लगाया है।



पूर्व अध्यक्ष पर दायर याचिका मे पारित पूर्व आदेश वापस लिए जाने से अधिवक्ताओं मे खुशी



प्रतापगढ़ । बार काउन्सिल आफ उ.प्र. की अदालत मे दायर याचिका मे पारित पूर्व आदेश वापस लिए जाने पर अधिवक्ताओं मे खुशी । बता दें कि सांगीपुर क्षेत्र की सुकन्या शुक्ला ने बार काउन्सिल आफ युपी मे संयुक्त अधिवक्ता संघ के पूर्व अध्यक्ष देवी प्रसाद मिश्र पर आरोप लगाते हुए याचिका दायर किया था कि उन्होने पद पर रहते हुए साथी अधिवक्ता राजीव त्रिपाठी के भूमिगत मामले मे हस्तक्षेप कर सहयोग करते हुए जबरिया भूमि दिलाने मे मदद किया था । मामले मे बार काउन्सिल आफ युपी ने सुनवाई करते हुए मामले मे पारित पूर्व आदेश को वापस ले लिया जिससे वर्तमान अध्यक्ष अनिल शुक्ल ( महेश ) राजीव त्रिपाठी,गुड्डू शुक्ल,  संदीप सिंह, पुनीत मिश्र, राजेन्द्र मिश्र ,राममोहन ,धनश्याम मिश्र, दिनेश मिश्र, असलम भाई, आशीष त्रिपाठी सहित तहसील के ‌तमाम अधिवक्ताओं ने खुशी का इजहार करते हुए एक - दूसरे का मुंह मीठा कराया‌।







No comments