Breaking News

विधान परिषद सदस्य अक्षय प्रताप सिंह ‘गोपाल’ ने सर्राफा व्यवसायी के घर पहुंचकर दी सांत्वना Dainik mail 24

 

प्रतापगढ़ में अपराध की घटनाएं न रुकी तो बड़ा आंदोलन छेड़ेंगे : अक्षय प्रताप 



प्रतापगढ़। प्रतापगढ़ जिले में ताबड़तोड़ हो रही लूट और हत्या की घटनाओं पर विधान परिषद सदस्य अक्षय प्रताप सिंह ‘गोपाल’ ने कड़ी नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने स्थानीय प्रशासन को चेतावनी दी है कि लूट और हत्या की घटनाओं में शामिल अपराधियों को जल्द गिरफ्तार कर कार्रवाई की जाए। अगर इसी तरह से जिले में लूट और हत्या की घटनाएं होती रहीं तो हम चुप नहीं बैठेंगे और बड़ा आंदोलन छेड़ने के लिए मजबूर होना होगा।


अक्षय प्रताप सिंह ‘गोपाल’ ने पट्टी कस्बे के रायपुर रोड स्थित अहमद के घर पहुंचकर परिजनों से मुलाकात की और उन्हें दुख की इस घड़ी में सांत्वना प्रदान की। उन्होंने कहा कि राजा भईया का परिवार दुख की इस घड़ी में पीड़ित परिवार के साथ खड़ा है। बता दें 9 जनवरी की शाम सर्राफा की दुकान बंद कर घर लौटते समय अहमद और मुस्तकीम के ऊपर फायरिंग कर लुटेरे 50 लाख रुपये की कीमत के जेवरात लूट ले गये थे। इस घटना में मुस्तकीम की मौत हो गयी थी। घटना के सप्ताह भर बीत जाने के बाद भी पुलिस अभी तक इस मामले में लुटरों का पता नहीं लगा सकी है।


इससे पहले 7 जनवरी को प्रतापगढ़ शहर में नगर कोतवाली के नाक के नीचे श्याम बिहारी गली में सराफा कारोबारी सुरेश सोनी की दुकान में लुटेरों ने धावा बोलकर 90 लाख रुपये की कीमत के जेवरात की लूट की थी। 11 जनवरी को कंधई थाना क्षेत्र के मंगरौरा बाजार में गल्ला व्यापारी के साथ 16 लाख रुपये की लूट की घटना हुई थी। विधान परिषद सदस्य श्री गोपाल ने सभी घटनाओं पर पीड़ित परिवार के प्रति संवेदना जताई है और पुलिस प्रशासन से लुटेरों को गिरफ्तार किये जाने की मांग किया है।


अक्षय प्रताप सिंह के साथ जनसत्ता दल के राष्ट्रीय महासचिव डॉ. कैलाश नाथ ओझा, प्रदेश अध्यक्ष व बिहार विधानसभा क्षेत्र के विधायक विनोद सरोज, पूर्व जिला पंचायत सदस्य इंसाफ बहादुर सिंह, जिलाध्यक्ष राम अचल वर्मा, मीडिया प्रभारी मुक्कू ओझा, जीवेन्द्र पाल समेत कई लोग मौजूद रहे।








No comments