Breaking News

बसंत पंचमी पर हुई मां वीणापाणि की आराधना, सांस्कृतिक कार्यक्रमों से मंत्रमुग्ध हुए लोग Dainik mail 24

 


लालगंज, प्रतापगढ़। बसंत पंचमी के पर्व पर सोमवार को जगह जगह मां वीणापाणि की आराधना हुई। नगर के कहारन का पुरवा मे रवि त्रिपाठी म्यूजिकल इंस्टीटयूट के तत्वाधान मे बसंतोत्सव का आयोजन हुआ। कार्यक्रम का शुभारंभ संगीताचार्य विनय शुक्ल तथा वरिष्ठ साहित्यकार विशालमूर्ति मिश्र ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर किया। साहित्यकारों व संगीतकारों ने मां सरस्वती का वैदिक पूजन भी किया। कार्यक्रम मे साक्षी सिंह, जागृति मिश्रा तथा राजलक्ष्मी आदि ने आध्यात्मिक भजनों से मां की आराधना प्रस्तुत की। कार्यक्रम के दौरान संयोजक धीरज शुक्ल व विनय शुक्ल ने आयोजन समिति की ओर से मानस मर्मज्ञ पं. रामफेर पाण्डेय, संगीतकार सशेन्द्र बहादुर सिंह, अधिवक्ता ज्ञानप्रकाश शुक्ल, साहित्यकार विशालमूर्ति मिश्र, चेयरपर्सन प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी, प्रधानाचार्य सुधाकर पाण्डेय, शिक्षक राकेश तिवारी, विनोद मिश्र को अंगवस्त्रम तथा लेखनी प्रदान कर सम्मानित किया। संगीत की देवी माँ सरस्वती की स्तुति मे कार्यक्रम मे मनमोहक संगीतवादन की प्रस्तुति को देख लोग मंत्रमुग्ध हो उठे। कार्यक्रम की अध्यक्षता चेयरपर्सन प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी तथा संचालन जेपी पाण्डेय ने किया। इस मौके पर नवीन शुक्ल, पवन प्रखर, केशवकांत ओझा, संतोष मिश्र, अनूप द्विवेदी आदि रहे। इधर नगर के सरस्वती विद्या मंदिर इण्टर कालेज मे भी बसंत पंचमी पर मां सरस्वती की आराधना की गई। विद्यालय परिसर मे भगवान सत्य नारायण की कथा तथा सरस्वती पूजन के उपरांत छात्र-छात्राओं व शिक्षको को प्रसाद वितरित किया गया। कार्यक्रम के संयोजन आचार्य रामअवधेश मिश्र ने विद्या की देवी सरस्वती के द्वारा संसार को मिले शब्द साधना पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम मे आचार्य उमेश पाल मिश्र, प्रदोष नारायण सिंह, सतीश मिश्र आदि रहे। वहीं अन्य शिक्षण संस्थानों मे भी बसंत पंचमी पर मां सरस्वती की आराधना हुई।








No comments