Breaking News

विधायक मोना के शिकायत पर निर्माणाधीन महिला एवं बाल चिकित्सालय मे धांधली की शासन स्तर से शुरू हुई जांच Dainik mail 24

 

विशेष सचिव प्रांजल यादव ने परिवार कल्याण के महानिदेशक को पत्र लिखकर दस दिन मे मंगाई जांच आख्या

विधायक आराधना मिश्रा मोना के निरीक्षण मे सामने आयी थी गुणवत्ताविहीन कार्य की हकीकत




लालगंज, प्रतापगढ़। नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर मे निर्माणाधीन पचास बेड के महिला एवं बाल चिकित्सालय मे अनियमितता व गुणवत्ताविहीन कार्य कराने की जांच के लिए शासन के विशेष सचिव ने परिवार कल्याण के महानिदेशक को पत्र लिखकर दस दिन के भीतर रिर्पोट तलब की है। क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना के पत्र पर शासन के विशेष सचिव ने कडा कदम उठाया है। विधायक के शिकायती पत्र मे उल्लिखित बिंदुओं के सम्बन्ध मे अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण की अध्यक्षता मे तीन सदस्यीय टीम जांच करेगी। विधायक के पत्र पर शासन के विशेष सचिव के फरमान से निर्माणाधीन अस्पताल की कार्यदायी संस्था के कर्मचारियों मे हडकंप बना हुआ है। लालगंज नगर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर मे पूर्व राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी व क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना के प्रयास से पचास बेड के महिला व बाल चिकित्सालय का निर्माण चल रहा है। बीती इक्कीस दिसंबर को निर्माणाधीन अस्पताल की प्रगति देखने क्षेत्रीय विधायक मोना सीएचसी पहुंची तो गुणवत्ताविहीन व मानक के विपरीत कार्य कराते देख विफर पड़ी। उन्होनें कार्यदायी संस्था को कडी फटकार लगाते हुए शासन को पत्र लिखकर अस्पताल के निर्माण मे हो रही धांधली की शिकायत की थी।



 शिकायत को गंभीरता से लेते हुए शासन के विशेष सचिव प्रांजल यादव ने मामले की जांच कराने का फैसला लिया है। श्री यादव ने परिवार कल्याण के महानिदेशक को पत्र लिखकर लालगंज मे निर्माणाधीन चिकित्सालय की जांच दस दिन के भीतर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। विशेष सचिव प्रांजल यादव ने चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, प्रयागराज के अपर निदेशक की अध्यक्षता मे संयुक्त निदेशक व विभागीय अभियंत्रण इकाई के अभियंता की तीन सदस्यीय टीम द्वारा संपादित जांच आख्या दस दिन के भीतर प्रत्येक दशा मे उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है। लालगंज सीएचसी परिसर मे निर्माणाधीन महिला व बाल चिकित्सालय मे धंाधली का मामला शासन द्वारा संज्ञान मे लेकर जांच का आदेश जारी करने की सूचना से कार्यदायी संस्था के अफसरो व कर्मचारियों समेत स्वास्थ्य महकमे मे भी हडकंप मचा हुआ है।








No comments