Breaking News

देश की गंगा-जमुनी संस्कृति की मजबूती का संदेश है एकता महोत्सव-जिलाधिकारी Dainik mail 24

 

डीएम ने गंगा-सागर में दीपदान कर किया छब्बीसवें महोत्सव का भव्य उद्घाटन



लालगंज प्रतापगढ़। पौराणिक स्थली बाबा घुइसरनाथ धाम मे छब्बीसवें राष्ट्रीय एकता महोत्सव की गुरूवार की देर शाम जिलाधिकारी डा. नितिन बंसल ने पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी एवं क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना के साथ सई तट पर बनें खूबसूरत गंगा सागर में संयुक्त रूप से दीपदान कर महोत्सव का श्रीगणेश किया। दर्शन पूजन के उपरान्त सांस्कृतिक रंग-मंच पर पहुंचे डीएम ने दीप प्रज्ज्वलित कर महोत्सव की सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ कराया। वॉलीबुड स्टार रवि त्रिपाठी के संयोजन में लोक गायक चंचल शुक्ल तथा प्रदीप ने स्वागत गान प्रस्तुत किया। समारोह को बतौर मुख्यअतिथि डीएम डा. नितिन ने कहा कि गंगा-जमुनी संस्कृति की मजबूती ही देश के विकास की परिकल्पना है। उन्होनें कहा कि एकता महोत्सव जैसे आयोजन विकास और शांति के वातावरण के प्रति हमारे संकल्पबद्ध होने का उत्सव हुआ करते है। उन्होनें कहा कि सांस्कृतिक कार्यक्रम के जरिये समाज के लोगों को एकता के सूत्र में संगठित कर देश को भावनात्मक मजबूती मिला करती है। उन्होनें एकता महोत्सव के इस प्रकार के बड़े स्तर पर सौहार्द पूर्ण आयोजन कराने के लिए क्षेत्रीय विधायक एवं महोत्सव की संयोजिका आराधना मिश्रा मोना के प्रयासो की सराहना भी की। वहीं  जिलाधिकारी ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के जरिये सदभावना का वातावरण बनाये जाने के लिए कलाकारों के भी श्रम व साधना की भूरि भूरि सराहना की। समारोह को अति विशिष्ट अतिथि के रूप मे संबोधित करते हुए केन्द्रीय कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य एवं पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी ने कहा कि दुनिया के राष्ट्रों के बीच भारत की सांस्कृतिक एकता की छवि हमारे महान लोकतंत्र में समानता तथा बन्धुत्व की प्रेरणा की गाथा लिये हुए है। उन्होनें कहा कि एकता महोत्सव सौहार्द के साथ समतापरक पूजा और आराधना की संस्कृति को भी मजबूत बनाये रखने में अपनी सार्थकता रखता है। प्रमोद तिवारी ने बाबा घुइसरनाथ जी से देश को कोरोना मुक्त बनाने के लिए कामना करते हुए कहा कि स्वस्थ भारत अपनी सार्वभौमिक एकता की ताकत से आज के दौर में दुनिया का नेतृत्व करने में समर्थ हुआ है। श्री तिवारी ने लोगों से मिलजुलकर आधुनिक भारत के बहुमुखी विकास में भागीदारी का भी आहवान किया। उप जिलाधिकारी राम नारायण ने भी लोगों से शांति व अमन के प्रति संकल्पबद्ध होने का आहवान किया। अध्यक्षता करते हुए कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता क्षेत्रीय विधायक एवं आयोजन समिति की संयोजिका आराधना मिश्रा मोना ने कहा कि बाबा धाम मे एकता महोत्सव के आयोजन का उददेश्य लोक कल्याण तथा विकास की साधना को समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति के जीवन तक को फलीभूत बनाने का संकल्प है। उन्होनें कहा कि रामपुरखास की पिछले पच्चीस वर्षो से लोगों को एकजुट बनाए रखने की इस सफलता के जरिए सांस्कृतिक एवं वैचारिक समानता की पूंजी को राष्ट्र के लिए सशक्त बनाए रखना भी है। उन्होनंे विकास तथा अमन को क्षेत्र की पहचान बताते हुए कहा कि यह उत्सव भी अक्षुण्य एकता के क्षेत्र में रामपुर खास का मॉडल स्वरूप अलंकृत किया करता है। ट्रिपल आईटी प्रयागराज की प्रोफेसर डा. विजयश्री सोना ने स्वागत करते हुए आयोजन में जन सहयोग को मूल ठहराया। विधायक पुत्र राघव मिश्र ने अतिथियों को बुकंे भेंटकर सम्मानित किया तो समारोह स्थल तालियों की गड़गडाहट से गंूज उठा। संचालन मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल ने किया। आभार प्रदर्शन प्रतिनिधि भगवती प्रसाद तिवारी ने किया। इस मौके पर जिला सूचनाधिकारी विजय कुमार, सीओ जगमोहन, तहसीलदार श्रद्धा पाण्डेय, नायब तहसीलदार आकांक्षा मिश्रा, ईओ सुभाषचंद्र सिंह, बीडीओ समा सिंह, बीडीओ लालगंज मुनव्वर खां, सांगीपुर प्रमुख अशोक सिंह बब्लू, लालगंज प्रमुख सुरेंद्र सिंह ददन, चेयरपर्सन प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी, पं. श्यामकिशोर शुक्ल, डा. नीरज तिवारी, कपिल द्विवेदी, अरूण पाण्डेय, रोहित शुकल, आशीष उपाध्याय, करूणेश पाण्डेय, दृगपाल यादव, सुधाकर पाण्डेय, रामकृपाल पासी, डा. अमिताभ शुक्ल, रामबोध शुक्ल, अरविंद मिश्र, प्रधान आशुतोष मिश्र, दिनेश मिश्र, छोटेलाल सरोज, लाल अभिषेक प्रताप सिंह, त्रिभु तिवारी, अंबुज मिश्र, विशालमूर्ति मिश्र, डा. शक्तिधर नाथ पाण्डेय, प्रशांत शुक्ल, विनय शुक्ल, रामचंद्र त्रिपाठी,  आदि रहे।



लोक प्रशासन के क्षेत्र में डीएम को मिला एकता सम्मान


लालगंज प्रतापगढ़। बाबा धाम मे राष्ट्रीय एकता महोत्सव मे गुरूवार की शाम आयोजन समिति द्वारा लोक प्रशासन के क्षेत्र में मेधावी जिलाधिकारी डा. नितिन बंसल का महोत्सव की संयोजिका एवं क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना द्वारा स्मृति चिन्ह व बुकें तथा अंगवस्त्रम् प्रदान कर सम्मान किया गया। वहीं विधायक आराधना मिश्रा मोना ने सुपरस्टार सत्येन्द्र पाठक, भोजपुरी सिनेस्टार निशा पाण्डेय, विजय यादव, माधुरी वर्मा को भी स्मृति चिन्ह व अंगवस्त्रम प्रदान कर सम्मानित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी व संयोजन डा. विजयश्री सोना ने किया। 

  

 

निशा पाण्डेय व सत्येन्द्र पाठक ने महोत्सव में बिखेरा जलवा, अद्भुत दिखी सांस्कृतिक समां 
भजन, बृज की होली, युगल गायन व लोक-नृत्यों का उमड़े सैलाब में देर रात तक किया रसास्वादन


लालगंज प्रतापगढ़। बाबा घुइसरनाथ धाम मे राष्ट्रीय एकता महोत्सव की गुरूवार की शाम मे भजन, युगल गायन, वादन, बृज की होली जैसे उच्चस्तरीय सांस्कृतिक कार्यक्रमों की मनमोहक प्रस्तुतियों में खचाखच भरे ऑडीटोरियम तथा विशिष्ट लॉबी में लोग आनंद से झूमते दिखे। भोजपुरी तथा गीतों की महफिल सजाकर ले आई सुपरस्टार निशा पाण्डेय व सुपरस्टार सत्येन्द्र पाठक की जोड़ी ने प्रस्तुतियों का आधीरात तक धमाल किया। सत्येन्द्र पाठक ने गीत, गजल तथा तरानों के बीच दर्शकों में अपनी बेहतरीन छाप छोड़ी। वहीं निशा पाण्डेय के लटके झटके के बीच गीतों ने तो महोत्सव में गुरूवार की रात जवां दिलों की नजरों को मंच से हिलनें तक नही दिया। सत्येन्द्र पाठक के बोल तुम आये तो आया मुझे याद गली में आज चांद निकला.. वहीं जगत के सिर पर जिनका हाथ वहीं है बाबा घुइसरनाथ.. तथा हम तुम्हें चाहते हैं ऐसे जैसे समुधुर गीतों ने खूब तालियां बटोरी। लटके झटके के साथ निशा पाण्डेय ने जब सुर को आगाज दिया ए दरोगा बाबू आई लव यू.. तथा कजरा मोहब्बत वाला.. एवं निशा के भजन के बोल हे प्रलयंकर हे शिवशंकर पर भी दर्शकों का उत्साह चरम पर आ पहुंचा दिखा। इसके पहले नीरज शुक्ल का बाबा घुइसरनाथ की महिमा निराली.. की प्रस्तुति सराहनीय दिखी। मंच पर धरोहर कार्यक्रम के कलाकारों के द्वारा शिवताण्डव तथा होरी खेलै मशाने में तथा राष्ट्रीय एकता को समर्पित सामूहिक भाव-नृत्य नें महोत्सव को नवरस प्रदान किया। विजय यादव एवं साथी कलाकारों ने अउरे महिनवा बरसै न बरसै फगुनवा में रंग बरसै.. ने भी महोत्सव की फिजा को चार चांद लगाया। लॉफ्टर चैलेंज सूरज केसरी ने भी बीच बीच मे दर्शको को हंसाकर महोत्सव मे अमिट छाप छोडी। इण्डियन परफार्मिंग आटर््स ग्रुप केे  देशभक्ति से जुडे कार्यक्रमो ने पूरे माहौल को राष्ट्रीयता की तरंगो मे परवान चढा दिया। प्रयागराज की माधुरी वर्मा के सांस्कृतिक दल की प्रस्तुति भी दर्शको को सुबह की पौ फटने तक मनोरंजन कराने मे कामयाब नजर आयी। एकता महोत्सव की गुरूवार की नाईट का संयोजन वॉलीवुड सुपरस्टार एवं पार्श्व-गायक रवि त्रिपाठी ने किया। खचाखच भरे मुख्य आडीटोरियम से लेकर विशिष्ट दीर्घा, महिला लॉबी तथा दर्शक दीर्घा के द्वितीय तल पर भी लोगो की उपस्थिति इन कलाकारो के हौसला आफजाई मे सैलाब की तरह पूरी रात उमंगे लेती नजर आई। सीडब्लूसी मंेबर प्रमोद तिवारी, कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता व विधायक आराधना मिश्रा मोना एवं डा. विजयश्री सोना, राघव मिश्र, दिनेश त्रिपाठी, एसडीएम राम नारायण, सीओ जगमोहन, तहसीलदार श्रद्धा पाण्डेय, नायब तहसीलदार आकांक्षा मिश्रा, ईओ सुभाषचंद्र सिंह आदि कलाकारों का उत्साहवर्धन करते दिखे। महोत्सव को लेकर कार्यक्रम स्थल पर पुलिस व पीएसी के जवानों को भी रात भर भीड़ नियंत्रित करने में एड़ी का जोर भी लगाना पड़ा। 




डीएम ने किया महोत्सव दर्पण का विमोचन

फोटो- 10 महोत्सव दर्पण का विमोचन करते डीएम डा. नितिन बंसल साथ मे प्रमोद तिवारी व विधायक मोना तथा अन्य

लालगंज प्रतापगढ़। बाबा धाम मे देवाधिदेव महादेव श्री घुश्मेश्वर के आध्यात्मिक गौरव तथा बाबा से जुडी जनश्रुति एवं धाम के माहात्म्य व पर्यटन विकास से जुडी छब्बीसवें राष्ट्रीय एकता महोत्सव दर्पण-2021 स्मारिका का जिलाधिकारी डा. नितिन बंसल एवं पूर्व राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी व एसडीएम राम नारायण, पार्श्व-गायक रवि त्रिपाठी, डीआईओ विजय कुमार, पं. श्यामकिशोर शुक्ल, डा. नीरज तिवारी एवं अन्य अतिथियों ने समारोहपूर्वक विमोचन किया। कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता व रामपुरखास की विधायक आराधना मिश्रा मोना के संपादन मे स्मारिका के जरिये लोगो को बाबा धाम की महत्ता, पौराणिकता एवं पर्यटन नगरी के अदभुत विकास की वृहद जानकारियां दी गई है। महोत्सव दर्पण मे बाबा घुइसरनाथ के स्वस्फुटित लिंग के सुफल मंगलफल और सई पार स्थित करील के वृक्ष तथा उपलिंग बूढ़ेश्वरनाथ के साथ प्रथम महोत्सव की शुरूआत से लेकर छब्बीसवें वर्ष की सांस्कृतिक उपलब्धियो पर भी प्रकाश डाला गया है। वहीं केन्द्रीय कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य एवं पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी द्वारा हाल ही मे धाम के लिए स्वीकृत कराए गये रीवर फं्रट, अगई प्रवेश द्वार आदि की भव्यता पर भी प्रकाश डाला गया है। वहीं महोत्सव दर्पण मे बाबा धाम मे दो दो पैदल यात्री सेतु, एकता सरोवर, सांस्कृतिक रंगमंच, सीसी परिक्रमा मार्ग, सोलर पावर प्लांट, परिक्रमा छाजन, पेयजल टंकी, चिकित्सालय व विद्युत उपकेंद्र के साथ सई के रीवर फ्रंट से जुडी विकास गाथा का भी सचित्र प्रस्तुतीकरण लोगो को पसंद आया। इसके पहले कार्यकारी संपादक ज्ञानप्रकाश शुक्ल ने प्रारम्भ मे महोत्सव दर्पण की संक्षिप्त मीमांशा प्रस्तुत की। इस मौके पर विशालमूर्ति मिश्र, डा. शक्तिधर नाथ पाण्डेय, डा. ज्ञानेंद्र त्रिपाठी, राममिलन तिवारी, भगवती प्रसाद तिवारी, डा. अमिताभ शुक्ल, दृगपाल यादव, रामकृपाल पासी, परवाना प्रतापगढ़ी, डा. नागेन्द्र अनुज भी मौजूद रहे। 



प्रमोद व मोना ने कलाकारों का बढ़ाया उत्साह

लालगंज प्रतापगढ़। राष्ट्रीय एकता महोत्सव में हुई सांस्कृतिक संध्या के दौरान कलाकार क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना व पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी से मिल रहे उत्साहवर्धन पर अभिभूत दिखे। कलाकारों ने बृज की फूलों की होली की प्रस्तुति पर जब कलाकारों ने विधायक मोना तथा प्रमोद तिवारी से मंच पर आने का आग्रह किया तो मोना व प्रमोद कलाकारों के बीच आ पहुंचे। उत्साहित कलाकारों ने दोनों नेताओं के साथ भी फूलों की होली खेली तो दर्शक लॉबी की तरफ भी रंगबिरंगे पुष्पों के पंखुड़ियों की वर्षा की। मंच पर प्रमोद तिवारी व मोना को लेकर दर्शक लॉबी में भी गजब का उत्साह नजर आया। 



सुरक्षा बलों ने शुरू किया पंचायत चुनाव का पूर्वाभ्यास

फोटो-11 महाविद्यालय मैदान में पूर्वाभ्यास करते पुलिसकर्मी

लालगंज प्रतापगढ़। पंचायत चुनाव को लेकर सुरक्षाबलों ने भी कमर कसना शुरू कर दिया है। शुक्रवार को नगर के हेमवती नंदन बहुगुणा पीजी कालेज मैदान में कोतवाली पुलिस ने सुरक्षा की दृष्टि से पूर्वाभ्यास किया। सीओ जगमोहन ने मातहतो को चुनाव में शस्त्र के उपयोग तथा कानून व्यवस्था को बनाए रखने मे चौकसी के बाबत टिप्स दिये। पुलिस जवानों को आंसू गैस, बॉडी प्रोटेक्टर का उपयोग, शस्त्रों की सफाई व रख-रखाव एवं भीड़ को नियत्रित करने, दंगा नियंत्रण व चेकिंग अभियान आदि के बाबत पूर्वाभ्यास में घण्टों पसीना बहाते देखा गया। पुलिस पूर्वाभ्यास को देखने के लिए अस्पताल छोर पर काफी लोग भी उत्सुक नजर आये। पूर्वाभ्यास के समय प्रभारी निरीक्षक रणजीत सिंह भदौरिया भी मौजूद रहे। 



धर्म की रक्षा के लिए धरती पर होता है भगवान् का अवतार-आचार्य  बालशुक सर्वेशमणि

पूरे चोपसिंह में भागवत कथा श्रवण के लिए श्रद्धालुओं का तांता

फोटो-12 कथा सुनाते आचार्य सर्वेशमणि

13 कथा श्रवण में शामिल श्रद्धालु

लालगंज प्रतापगढ़। रामपुर बावली के समीप पूरे चोपसिंह गांव में हो रही भागवत कथा में शुक्रवार को श्रद्धालुओं का तांता लगा दिखा। कथाव्यास पं. बालशुक सर्वेशमणि शांडिल्य जी ने कहा कि धरती पर जब जब भी अधर्म बढ़ता है इसके विनाश के लिए और धर्म की स्थापना के लिए प्रभु को अवतार लेना ही पड़ता है। उन्होनें कहा कि भगवान ने अधर्म के विनाश के लिए स्वजनों को भी दण्डित करने का मार्ग प्रशस्त किया है। आचार्य सर्वेशमणि जी ने कहा कि कलियुग के इस काल में भगवान की आराधना ही मनुष्य को समस्त दुःखों से पार लगा सकती है। कथाव्यास ने कहा कि धर्म का अर्थ है जीवन को सुचिता और नैतिकता के साथ समर्पित किया जाना। मनुष्य का जीवन तभी सफल व सुफल होता है जब वह चरित्र एवं संस्कार से बलवान हुआ करता है। जीवन में तपोबल ही सर्वश्रेष्ठ बल कहा जाता है। प्राणियों के प्रति सदभाव तथा परेशान लोगों की सहायता एवं अहंकार तथा अत्याचार का विनाश ही धर्म का मूल है। कथाव्यास ने लोगों को बताया कि पूजा और आराधना तभी फलवती हुआ करती है, जब हम सच्चे मन से भगवान् के सुझाये व बताये गये नीतियों का अनुसरण किया करते है। कथाव्यास ने भजन व संकीर्तन को भी साधना का मंत्र ठहराया है। कथा के दौरान माधव बिहारी का संकीर्तन भी मनोरम दिखा। कथा के संयोजक राजपति सिंह तथा राज बहादुर सिंह राजू ने आचार्य पीठ का श्रीअभिषेक किया। सह संयोजिका रेनू सिंह ने प्रसाद वितरण का प्रबन्धन किया। कथाश्रवण में डा. चन्द्रेश सिंह, दानपाल द्विवेदी, पं. रमाशंकर शुक्ल, माता शुक्ला, हरिकेश बहादुर सिंह, भुवनेश्वर शुक्ल, अवधेश नारायण पाण्डेय, ददन मिश्र, रोहित सिंह, दयाशंकर पाण्डेय, रामजस पाण्डेय, ओमप्रकाश मौर्य, दिनेश पाण्डेय, राजेश गुप्ता, बृजभूषण सिंह, अजय प्रताप सिंह, कमल सिंह आदि रहे।








No comments