Breaking News

ब्याज दरों मे कमी करना मोदी सरकार का मध्यम वर्ग व कर्मियों के साथ धोखा- प्रमोद तिवारी Dainik mail 24

 

सीडब्लूसी मेंबर ने जहरीली शराब से हो रही मौतों पर सरकार व प्रशासन की किया घेराबंदी, कटरिया गांव में पीड़ितों का बांटा दुख दर्द



लालगंज, प्रतापगढ़। केन्द्रीय कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य एवं यूपी आउटरीच एण्ड कोआर्डिनेशन कमेटी के प्रभारी प्रमोद तिवारी ने भारत सरकार के वित्त मंत्रालय द्वारा हाल ही में छोटी राशि के छोटी अवधि के बचत पर ब्याज दर 1.1 प्रतिशत कम करने को गरीब तथा मध्यम वर्ग एवं वेतनभोगी कर्मचारियों की बचत पर सरकार का सीधा हमला करार दिया है। श्री तिवारी ने कहा कि कर्मचारी भविष्य निधि की बचत पर मिलने वाली ब्याज में यह कटौती से साफ हो गया है कि केंद्र सरकार उनकी बचत की ब्याज पर भी डांका डाल रही है। उन्होनें इसे गरीब तबके के साथ भी धोखा करार दिया। शुक्रवार को नगर स्थित कैम्प कार्यालय पर मीडिया से रूबरू होते हुए प्रमोद तिवारी ने कहा कि देश के पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनावों को लेकर भाजपा से लड़ने वालों ने जब कहा कि इसका प्रतिकूल असर जनता पर पड़ रहा है तो सरकार ने मजबूरी में आननफानन में चौबीस घण्टे में इसे वापस ले लिया। श्री तिवारी ने तंज कसा कि गरीब की बचत पर मोदी सरकार की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण भूलवश आदेश जारी होने की आधारहीन सफाई पेश कर रही है। सीडब्लूसी मेंबर प्रमोद तिवारी ने साफ आशंका जताई है कि चुनाव समाप्त होने के बाद गरीब, मध्यम वर्ग तथा वेतनभोगी कर्मचारियों पर केन्द्र फिर प्रहार करते हुए इसे लागू करेगी। उन्होनें स्पष्ट आरोप लगाया कि इस प्रकार के कदम साफ तौर पर मोदी सरकार के द्वारा देश के आम आदमी से उसकी गाढ़ी कमाई की रकम लेकर पूंजीपतियों की तिजोरी भरने की भी मंशा फिर सामने आयी है। रामपुरखास विधानसभा क्षेत्र में शराब से हुई मौतों पर तीखी प्रतिक्रिया जताते हुए कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य प्रमोद तिवारी ने आरोप लगाया है कि यह घटना सरकार की खुली लापरवाही का एक और दुखद पहलू उजागर कर गई है। बकौल प्रमोद तिवारी क्षेत्र के रामपुर दाबी में जब चार लोगों की दुखद मौतें शराब पीने से हुई थी तो उसी समय क्षेत्रीय विधायक एवं कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर आग्रह किया था कि यदि नेताओं एवं आबकारी विभाग की मिलीभगत से बिकने वाली मिलावटी जहरीली शराब की असंवैधानिक समानांतर बिक्री पर रोक नहीं लगाई गई तो होली और पंचायत चुनाव मे इस प्रकार की घटनाओं से और भी अधिक गरीबों की मौत होगी। श्री तिवारी ने कहा कि विधायक के आग्रह के बावजूद प्रदेश सरकार ने इस मुददे पर गंभीरता नहीं दिखलाई जिसके चलते सांगीपुर ब्लाक के कटरिया में भी पांच जानें चली गई और दो लोगों की मौत की स्थिति संदेहास्पद है। श्री तिवारी के मुताबिक सात निर्दोष लोगों की जान चली गई है और अन्य कई लोग जीवन तथा मौत से संघर्ष कर रहे हैं तो इसके लिए आबकारी विभाग और सत्तारूढ़ दल के नेताओं का संरक्षण ही जिम्मेदार है। श्री तिवारी ने सरकार से कहा है कि जहरीली शराब की बिक्री वह हर हाल में रोके अन्यथा पंचायत चुनाव में यदि और अधिक मौतें हुई तो इसके लिए सीधे सीधे प्रदेश सरकार ही जबाबदेह होगी। उन्होनें कहा कि शराब के धन्धे के चलते हुई मौतों तथा बीमार लोगों की स्थिति को लेकर वह शीघ्र ही प्रदेश के मुख्यमंत्री से मिलकर कड़ी कार्रवाई के लिए स्वयं आग्रह करेगें। हालांकि प्रमोद तिवारी ने कहा कि डीएम तथा नवागान्तुक एसपी और जिले के अपर पुलिस अधीक्षकों तथा क्षेत्राधिकारी लालगंज जहां इस प्रकार की घटनाओं को रोकने का प्रयास कर रहे है, वहीं करोड़ो कमाने की लालच में सत्तारूढ़ दल की छत्रछाया में पलने वाले अपराधियों के हौंसले बुलन्द है। सीडब्लूसी मेंबर प्रमोद तिवारी ने घटना को लेकर शासन स्तर पर क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना के भी लगातार जारी प्रयासों को गरीब को न्याय दिलाने में प्रभावी संघर्ष करार दिया। इसके बाद प्रमोद तिवारी कटरिया गांव पहुंचे और यहां हाल ही में शराब से हुई मौतों से पीड़ित परिजनों से मुलाकात की। श्री तिवारी ने स्वयं तथा विधायक मोना की ओर से घटना पर दुख जताते हुए प्रभावित परिवारों को हर संभव मदद व सहयोग का भरोसा दिलाया। प्रमोद के कटरिया पहुंचते ही शुक्रवार को भी गांव में माहौल गमगीन हो गया। इसके पूर्व श्री तिवारी ने चाहिन गांव पहुंचकर सार्टसर्किट की घटना में कृष्णा सरोज की नातिन मासूम अंशिका के निधन पर संवेदना प्रकट की। वहीं रामपुर संग्रामगढ़ के खण्डवा गांव में पांच वर्षीया मासूम श्वेता की हत्या पर भी परिजनों से मिलकर ढ़ांढस बंधाया। श्री तिवारी ने पीड़ित परिवार को समुचित मदद का भरोसा भी दिलाया। इस मौके पर प्रतिनिधि भगवती प्रसाद तिवारी, मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल, सांगीपुर प्रमुख अशोक सिंह, चेयरपर्सन प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी, सुधाकर पाण्डेय, हरि नारायण तिवारी, दृगपाल यादव, छोटे लाल सरोज, केडी मिश्र, अरविंद मिश्र, महेन्द्र सिंह, लालगंज प्रमुख ददन सिंह, कुंवर ज्ञानेन्द्र सिंह, जमील खॉ, राकेश तिवारी, माता प्रसाद पाण्डेय, भुवनेश्वर शुक्ला आदि रहे। 



निदोर्षो का गम देखा सुना तो भावुक हो उठे प्रमोद

इनसेट

लालगंज, प्रतापगढ़। कांग्रेस वर्किग कमेटी के सदस्य प्रमोद तिवारी शुक्रवार की शाम जब कटरिया पहुंचे तो रोती बिलखती महिलाओं और मासूम बच्चों का दर्द देख वह भी भावुक हो उठे। प्रमोद तिवारी ने पीड़ितो को ढांढ़स बंधाया। वहीं घटना के जिम्मेदारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कराए जाने का भी भरोसा दिलाया। गांव में लोगों ने प्रमोद तिवारी से मदद की गुहार भी की। वहीं बीमार लोगों के परिजन अस्पताल मे भर्ती लोगों के इलाज आदि को लेकर क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना की ओर से जारी मदद पर सकून में भी दिखे। वहीं गांव के दौरे मे भी प्रमोद तिवारी का आबकारी विभाग एवं पुलिस तथा शराब सिंडीकेट से जुड़े अपराधियों के बाबत पारा चढ़ा दिखा।








No comments